info@sabkikhabar.com +91 9425401800
Breaking News - - ★★ इंदौर में रिटायर्ड DSP के बंगले में चल रहा था ऑनलाइन सट्टा, पुलिस ने 5 को पकड़ा      ★★ एमपी विधानसभा चुनाव के लिए BSP ने जारी की दूसरी लिस्ट      ★★ मणिपुर में नहीं थम रहा हिंसा का सिलसिला, भीड़ हो रही लगातार हमलावर      ★★ कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया नहीं लड़ेगी चुनाव, ख़राब स्वास्थ्य बताई वजह     
...

मध्यप्रदेश के कई जिलों में सोमवार को भी ओलावृष्टि और बारिश हुई। छतरपुर के बड़ामलहरा, राजगढ़ और सागर में जमकर ओले गिरे। सागर में तो खेतों और सड़क पर सफेद चादर जैसी बिछ गई। मुरैना के अंबाह में बिजली गिरने से युवक की मौत हो गई। पति-पत्नी झुलस गए। रायसेन में औबेदुल्लागंज जोड़ के पास राजेश राय की बिजली गिरने से मौत हो गई। इंदौर समेत मालवा-निमाड़ में भी बारिश हुई। भोपाल में देर रात पानी गिरा। रायसेन जिले में रात 2.30 बजे तेज बारिश के साथ चने के बराबर ओले गिरे।

ओलावृष्टि और बारिश के कारण खेतों में फसलें बर्बाद हो गईं। शिवराज सरकार ने बर्बाद फसलों का सर्वे भी शुरू करा दिया है। 27 जिलों में प्रारंभिक नुकसान सामने आया है। CM शिवराज सिंह चौहान ने 25 मार्च तक सर्वे पूरा करने को कहा है। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी बेमौसम बारिश और ओलों से फसल तबाह होने की जानकारी दी है। सीएम ने पीएम से फोन पर बात की। सीएम शिवराज ने कहा कि वे सागर और विदिशा में प्रभावित खेतों का मुआयना करेंगे। हर खेत तक पहुंचना संभव नहीं है, लेकिन हर जिले, हर गांव और हर किसान की चिंता करूंगा। किसानों के साथ सरकार खड़ी है।

23-24 मार्च से फिर नया सिस्टम एक्टिव

मध्यप्रदेश में वेदर डिस्टर्बेंस की वजह से 23-24 मार्च को फिर एक सिस्टम एक्टिव हो रहा है। इसका असर ग्वालियर-चंबल संभाग में देखने को मिलेगा। भोपाल, इंदौर, जबलपुर, उज्जैन समेत प्रदेश के कई शहरों में हल्की बूंदाबांदी भी हो सकती है। इधर, मौजूदा सिस्टम से मंगलवार को भी कई शहरों में हल्की बूंदाबांदी होने की संभावना है। हालांकि, ज्यादातर शहरों में मौसम साफ रहेगा।

सिस्टम लौटने लगा, लेकिन 23-24 मार्च को फिर एक्टिविटी
मौसम वैज्ञानिक एचएस पांडे ने बताया कि 16 मार्च से फिर एक पश्चिमी विक्षोभ बना था। दक्षिण-पूर्वी हवाएं बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से नमी लेकर आई। इन दोनों के मिश्रण से प्रदेश में बारिश, ओलावृष्टि और तेज आंधी चली। 20 मार्च तक ऐसी ही स्थिति बनी रही। यह वेदर डिस्टर्बेंस अब खत्म हो रहा है। कुछ शहरों में मंगलवार को मौसम जरूर बदला सा रह सकता है। अधिकांश शहरों में मौसम में सुधार रहेगा, लेकिन 23-24 मार्च से एक दौर और आएगा। ग्वालियर-चंबल में हल्की बारिश होने की संभावना है।

इन जिलों में बारिश होने के आसार
मौसम विभाग की मानें, तो 23-24 मार्च को भोपाल, नर्मदापुरम, बैतूल, अशोकनगर, शिवपुरी, ग्वालियर, दतिया, भिंड, मुरैना, श्योपुरकलां, सिंगरौली, सीधी, रीवा, सतना, अनूपपुर, जबलपुर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला, बालाघाट, छतरपुर, टीकमगढ़ और निवाड़ी में मौसम बदला रहेगा। तेज हवा के साथ हल्की बारिश होने के भी आसार हैं।

भोपाल में 23 मार्च से फिर बदलेगा मौसम
14 मार्च से ही भोपाल में मौसम बदला हुआ है। तेज आंधी चलने के साथ बारिश और ओलावृष्टि भी हुई। सोमवार को बादल छाए रहे और दोपहर बाद हल्की बूंदाबांदी हुई। मौसम विभाग के अनुासार, 21 और 22 मार्च को बारिश के आसार नहीं है। सिस्टम लौटने की वजह से आसमान साफ रहेगा, लेकिन 23 मार्च से फिर मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। हल्की बारिश भी हो सकती है। मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है।

Bhopal   21/03/2023