Breaking News

Today Click 363

Total Click 448321

Date 18-04-19

इस प्राइवेट बैंक ने ब्याज दरों में की बड़ी कटौती

By Sabkikhabar :08-04-2019 08:41


भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के ब्याज दरों में कटौती के बाद देश के बड़े प्राइवेट बैंक एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) ने भी ग्राहकों को तोहफा देते हुए मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट (MCLF) में कटौती की घोषणा की है. नई दरें आज से लागू होंगी. इसके बाद बैंक का होम लोन, ऑटो लोन और पर्सनल लोन सस्ता हो जाएगा. एमसीएलआर घटने से आम आदमी को सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि उसका मौजूदा लोन सस्ता हो जाता है और उसे पहले की तुलना में कम EMI देनी पड़ती है. आपको बता दें कि बैंक ऑफ महाराष्ट्र के बाद अब दूसरे बैंकों पर भी ब्याज दर घटाने का दबाव बनेगा.

0.10 फीसदी की कटौती की
HDFC बैंक मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट (MCLR) में 0.10 फीसदी की कटौती की है. HDFC बैंक ने 1 साल के कर्ज पर एमसीएलआर 8.75 फीसदी से घटाकर 8.65 फीसदी कर दिया है. बैंक के ज्यादातर कर्ज इसी अवधि की ब्याज दर से जुड़े होते हैं. इसके अलावा बैंक ने छह महीने, तीन महीने और एक महीने के एमसीएलआर को घटाकर 8.45 फीसदी, 8.35 फीसदी और 8.30 फीसदी किया है.


क्या होता है MCLR-MCLR को मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट भी कहते हैं. इसमें बैंक अपने फंड की लागत के हिसाब से लोन की दरें तय करते हैं. ये बैंचमार्क दर होती है. इसके बढ़ने से आपके बैंक से लिए गए सभी तरह के लोन महंगे हो जाते हैं. 

एमसीएलआर कम होने से फायदा-एमसीएलआर कम होने से आम आदमी को सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि उसका मौजूदा लोन सस्ता हो जाता है और उसे पहले की तुलना में कम ईएमआई देनी पड़ती है.

आरबीआई की ओर से दरें घटाने के बाद लिया ये फैसला- RBI ने रेपो रेट एक चौथाई फीसदी (0.25%) घटा दिए है. आरबीआई की मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) की तीन दिवसीय बैठक के बाद ये फैसला लिया. रेपो में कटौती के बाद यह 6 फीसदी पर आ गया है. रिवर्स रेपो रेट भी घटकर 5.75 फीसदी पर आ गया है.

Source:Agency