Breaking News

Today Click 419

Total Click 279887

Date 13-12-18

धर्म संसद से पहले छावनी बनी अयोध्या, 70 हजार जवान तैनात

By Sabkikhabar :24-11-2018 09:14


अयोध्या में माहौल फिर से गर्म होता जा रहा है. हजारों शिवसैनिकों का जत्था रेल और हवाई मार्ग से अयोध्या पहुंच चुका है. सभी की जुबां पर सिर्फ एक ही नारा है 'अबकी बार राम मंदिर का निर्माण होकर रहेगा'. रविवार को अयोध्या में होने वाली धर्म संसद को लेकर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. इस बीच उद्धव ठाकरे मुंबई स्थित अपने आवास मातोश्री से अयोध्या के लिए निकल गए हैं. शाम को उद्धव सरयू तट पर आरती करेंगे.

राम की नगरी अयोध्या में जय श्री राम के नारों की गूंज लगातार तेज होती जा रही है. दो दिन पहले महाराष्ट्र के ठाणे से रवाना हुआ शिवसैनिकों का पहला जत्था देर रात अयोध्या पहुंचा. जानकारी के मुताबिक अब तक महाराष्ट्र से करीब 15,000 लोग अलग-अलग तरीकों से अयोध्या पहुंचे हैं.

महाराष्ट्र के नासिक और पुणे इलाके से शिव सैनिकों को लाने के लिए विशेष रूप से ट्रेनों का इंतजाम किया गया. शिवसेना ने महाराष्ट्र से पूरी की पूरी ट्रेन ही बुक करके अयोध्या के लिए रवाना कर दिया था. पहली ट्रेन देर रात पहुंची तो दूसरी आज सुबह. सैकड़ों की संख्या में शिवसेना और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं का अयोध्या में जमावड़ा हो रहा है.
 

सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था

बड़ी संख्या में शिवसैनिकों के अयोध्या आने के बाद की स्थिति पर नजर रखने और सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए कई जगहों पर पीएसी तैनात की गई है. लोकल पुलिस हर संवेदनशील जगह पर नजर बनाए हुए हैं.

राम जन्मभूमि पुलिस स्टेशन और अयोध्या पुलिस स्टेशन की पुलिस रेलवे स्टेशन पर डेरा डाले हुए हैं. साथ ही पूरी स्थिति पर ड्रोन कैमरा से और सीसीटीवी से नजर रखी जा रही है. सभी वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने स्तर पर सुरक्षा व्यवस्था को सुनिश्चित करें.

उत्तर प्रदेश सरकार ने विशेष रूप से अयोध्या की स्थिति पर नजर रखने के लिए अपने 4 आईपीएस अफसर लखनऊ से अयोध्या भेजे हैं जो यहां के अधिकारियों के साथ मीटिंग कर कानून और व्यवस्था पर नजर रखेंगे.

उद्धव ठाकरे आज पहुंचेंगे अयोध्या

25 नवंबर को अयोध्या में विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) की धर्म सभा है. दावा किया जा रहा है कि लाखों की तादात में राम भक्त अयोध्या में मौजूद रहेंगे. शिवसेवा प्रमुख उद्धव ठाकरे भी दो दिवसीय यात्रा पर आज शनिवार को अयोध्या पहुंचने वाले हैं, और उनकी कोशिश राम मंदिर निर्माण पर बीजेपी को पीछे धकेलते हुए इस मुद्दे पर अपना वर्चस्व कायम करने की है.

उद्धव कल रामलला के दर्शन करने के बाद शिवसैनिकों से रूबरू भी हो सकते हैं. हालांकि अभी तक इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है, लेकिन उधव का राम मंदिर को लेकर आंदोलन करने का ऐलान बेहद अहम है.

शिवसेना के प्रवक्ता संजय रावत के मुताबिक उद्धव आज कलश पूजन के बाद शाम की आरती में शामिल होंगे और फिर कल सुबह रामलला के दर्शन करने के लिए राम जन्मभूमि जाएंगे. इसी के साथ राम मंदिर निर्माण को लेकर नई शुरुआत की जाएगी.

कल से धर्म संसद

महाराष्ट्र से शिवसेना के कार्यकर्ताओं का जत्था पहले ट्रेन से अयोध्या के लिए रवाना हुआ. फिर कई लोग शिवसेना सांसद अरविंद सावंत के नेतृत्व में हवाई रास्ते से भी अयोध्या पहुंचे.

कहा जा रहा है कि 25 नवंबर की धर्म संसद में आरएसएस और शिवसैनिक भी शामिल होंगे. शहर में बढ़ती सक्रियता को लेकर शहर में तनाव का माहौल है. हालांकि प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होने का दावा किया है. अयोध्या और फैजाबाद में धारा 144 तक लागू कर दी गई है. पूरी अयोध्या को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. 70 हजार जवान तैनात करने के साथ ही ड्रोन भी नजर रख रहे हैं.

सिर्फ शिवसैनिक ही नहीं बल्कि साधु संतों का जमावड़ा भी अयोध्या में बढ़ता जा रहा है. ज्यादातर साधु भी एक सुर से राम मंदिर निर्माण की वकालत करते हुए राम नगरी में पहुंच रहे हैं.
 

Source:Agency