Breaking News

Today Click 320

Total Click 279788

Date 13-12-18

मूडीज को नहीं भायी पेट्रोल-डीजल पर मोदी की राहत, सरकार को चेताया

By Sabkikhabar :11-10-2018 08:43


पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क कटौती भारत की साख की दृष्टि से नकारात्मक है. मूडीज इंवेस्टर सर्विस ने मंगलवार को कहा कि इससे न केवल सरकार का राजस्व घटेगा बल्कि मार्च, 2019 को समाप्त होने वाले वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा भी बढ़कर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 3.4 प्रतिशत पर पहुंच सकता है. मूडीज ने कहा कि इससे सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम विपणन कंपनियों (ओएमसी) की आय पर भी नकारात्मक असर होगा, क्योंकि उन्हें मूल्य कटौती में एक रुपये प्रति लीटर का बोझ उठाना है. 

दरअसल सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में डेढ़ रुपये प्रति लीटर की कटौती की है. इससे चालू वित्त वर्ष में सरकार को 10,500 करोड़ रुपये के राजस्व का नुकसान होगा.  मूडीज ने बयान में कहा, 'कुल मिलाकर उत्पाद शुल्क कटौती साख की दृष्टि से नकारात्मक है. इसके अलावा इससे सरकार का राजस्व संग्रहण घटेगा और देश का राजकोषीय घाटा बढ़ेगा.' 
 

Source:Agency