Breaking News

Today Click 320

Total Click 178739

Date 20-09-18

जिम का बिज़नेस शुरू कर करें लाखों की कमाई

By Sabkikhabar :11-07-2018 07:16


आजकल लोगों का लाइफस्टाइल चेंज हो रहा है जिसकी वजह से शहरों में लोगों के अंदर बीमारियां बढ़ रही है. उन बीमारियों को कम करने के लिए लोगों ने एक्सरसाइज का एक एक नया ऑप्शन तराशा है और वो है जिम. यह वह जगह है जहां इंसान अपने दिन के कुछ घंटे गुजारकर दिनभर फ्रेश महसूस कर सकता है. आज के समय में हर कोई फिट दिखना और रहना चाहता है. इसी वजह से जिम की डिमांड बढ़ गई है और जिम के बिजनेस का स्कोप भी बढ़ गया है. तो आप भी कर सकते हैं ये बिज़नेस, आगे जानिए कैसे और कितने में शुरू किया जा सकता है जिम का बिज़नेस.

भारत में जिम का लाइसेंस कैसे प्राप्त करे
अपना जिम लाइसेंस प्राप्त करने के लिए आपको पुलिस एनओसी की जरुरत होती है. इसे आप पर्सनली या ऑनलाइन दोनों तरीके से अप्लाई कर सकते है. आप अपने यहां के लोकल पुलिस विभाग में जाकर इसके बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है.

भारत में एक जिम को रजिस्टर कैसे करे?

>> यदि आप जिम की शुरुआत करना चाहते है तो आपको सबसे पहले उसके लिए एक अच्छी सी जगह सुनिश्चित करनी होगी. आपको इन सबसे पहले इसमे लगने वाली लागत का कैलकुलेशन कर लेना चाहिये, जब आप यह सुनिश्चित कर ले तभी आगे की प्लानिंग करे.

>> भारतीय सरकार आपको जिम का रजिस्ट्रेशन लिमिटेड या प्राइवेट लिमिटेड फर्म के रूप में ही प्रदान करती है. यह आपको प्रमोटरो से सुरक्षा और ट्रांसफर एबिलिटी प्रदान करता है. जब आपके पास ट्रांसफर एबिलिटी होती है, तो आपके पास जिम के ठीक से न चलने की स्थिति में उसे किसी और को बेचने का अधिकार भी होता है.

फ्रेंचाइजी जिम कैसे खोले
फ्रेंचाइजी जिम की शुरुआत करने से पहले आपको जिम के टाइप और फोर्मेट पर विचार करना होगा. भारत में जिम के लिए मुख्यतः दो तरह की श्रेणियां उपलब्ध है:

>> वेट लिफ्टिंग, जिम और कार्डियो उपकरणों वाला जिम: यह एक प्रचलित जिम का प्रकार है. इसमे वेट लिफ्टिंग, कार्डियो और जिम के लिए उपकरण मौजूद होते है जिसके द्वारा जिमिंग करवाई जाती है. इसमे वजन कम करना, लड़को के लिए बॉडी बनाना आदि ट्रेनिंग दी जाती है. इसके लिए प्रशिक्षक को इन सब चीजों और मशीनो का ज्ञान और समझ होना बहुत ही आवश्यक है.

>> फिटनेस सेंटर: यह जिम का थोड़ा एक्सपेंसिव टाइप है, इसमे वजन बढ़ाना, घटाना और हेल्दी जीवन जीने से संबंधित प्रशिक्षण दिया जाता है. इस प्रकार के जिम में एरोबिक्स, योगा, विभिन्न तरीके के आसन, मार्शल आर्ट आदि को शामिल किया जाता है. इसलिए यह आवश्यक है की प्रशिक्षक के पास भी इन सभी चीजों का अच्छा ज्ञान हो.

Source:Agency