By: Sabkikhabar
09-07-2018 06:58

दिल्ली से सटे नोएडा में सैमसंग दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री लगाने जा रहा है. कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स के मामले में दुनिया के मैप पर सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री होने का टैग चीन या दक्षिण कोरिया के पास नहीं है और अमेरिका के पास भी नहीं है, बल्कि अब उत्तर प्रदेश के शहर नोएडा को यह उपलब्धि हासिल होने जा रही है.

नोएडा के सेक्टर 81 में स्थित सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स की 35 एकड़ में फैली इस फैक्ट्री का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन सोमवार को करेंगे. उनके हेलीकाप्टर को उतारने के लिए फैक्ट्री के पास ही हेलीपैड बनाया गया है. मून रविवार को दिल्ली पहुंच चुके हैं.

देश में 1990 के दशक की शुरुआत में पहला इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण केंद्र स्थापित हुआ जिसमें 1997 में टीवी बनना शुरू हुआ. मौजूदा मोबाइल फैक्ट्री 2005 में लगाई गई. पिछले साल जून में दक्षिण कोरियाई कंपनी ने 4,915 करोड़ रुपये का निवेश कर नोएडा प्लांट में विस्तार करने का एलान किया, जिसके एक साल बाद नई फैक्ट्री अब दोगुना उत्पादन करने के लिए तैयार है.

दोगुना होगा उत्पादन

भारत में कंपनी इस समय 6.7 करोड़ स्मार्टफोन बना रही है और नये प्लांट के चालू हो जाने पर तकरीबन 12 करोड़ मोबाइल फोन की मैन्यूफैक्चरिंग होने की संभावना है. नई फैक्ट्री में न सिर्फ मोबाइल बल्कि सैमसंग के कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक सामान जैसे रेफ्रिजरेटर और फ्लैट पैनल वाले टेलीविजन का उत्पादन भी दोगुना हो जाएगा और कंपनी इन सारे सेगमेंट में नंबर वन की भूमिका में बनी रहेगी.

काउंटरप्वाइंट रिसर्च के एसोसिएट डायरेक्टर तरुण पाठक के मुताबिक, नई फैक्ट्री से सैमसंग बाजार में कम समय में उत्पाद उतारने में सक्षम होगी. पाठक ने IANS से बातचीत में कहा, इससे सैमसंग को रिसर्च एंड डेवलेपमेंट के जरिये डिवाइस में कुछ स्थानीय फीचर लाने में मदद मिलेगी.

सैमसंग के भारत में दो विनिर्माण संयंत्र, नोएडा और तमिलनाडु के श्रीपेरुं बदूर में, हैं. इसके अलावा पांच रिसर्च एंड डेवलेपमेंट सेंटर और नोएडा में एक डिजाइन केंद्र हैं जिनमें 70 हजार लोग काम करते हैं. कंपनी ने अपने नेटवर्क को बढ़ाया है और 1.5 लाख रिटेल आउटलेट खोले हैं.

सीएम योगी ने किया दौरा

सैमसंग कंपनी की नई इकाई के उद्घाटन से पहले राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा आकर तैयारियों का जायजा लिया. आदित्यनाथ दिल्ली से डीएनडी होते हुये सड़क मार्ग से सेक्टर 81 स्थित सैमसंग कंपनी के परिसर में पहुंचे. उन्होंने पीएम मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति के यहां पहुंचने के कार्यक्रम को देखते हुये सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा की.

मुख्यमंत्री ने सैमसंग कंपनी के कार्यक्रम स्थल पर आला अफसरों और कंपनी के अधिकारियों के साथ बैठक की. प्रधानमंत्री के आगमन पर कोई अव्यवस्था ना हो साथ ही सुरक्षा चाक-चौबंद हो, इसके लिए मुख्यमंत्री ने अफसरों को सख्त निर्देश भी दिए हैं.

मून का पूरा कार्यक्रम

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन भारत पहुंच चुके हैं. रविवार को उन्होंने अक्षरधाम मंदिर का दौरा किया. मून के साथ मंत्रिमंडल के सदस्य और कारोबारियों का दल भी भारत आया है. सोमवार को वह पीएम मोदी के साथ राजघाट जाकर महात्मा गांधी की समाधि के दर्शन करेंगे और उसके बाद नोएडा जाकर सैमसंग के प्लांट का उद्घाटन करेंगे.
 

Related News
64x64

250 रु. जमा कर सुरक्षित करें बेटी का भविष्य, मोदी सरकार ने नियमों में किया बदलाव

मोदी सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना के नियमों में बदलाव कर दिया है। अब इस अकाउंट…

64x64

मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष की ओर से पेश अविश्वास प्रस्ताव शुक्रवार को 199 वोटों के बड़े अंतर से गिर गया। लोकसभा में 11 घंटे की तीखी और नाटकीय बहस…

64x64

राजस्थान के अलवर में गो तस्करी  के आरोप में एक शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. घटना रामगढ़ थाना क्षेत्र के लालवंडी गांव की है. मृतक का नाम अकबर…

64x64

नई दिल्ली/शाहजहांपुर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शाहजहांपुर में किसान रैली को संबोधित करते हुए कहा कि 'मैं यहां अपना वादा पूरा करने आया हूं. पहले की सरकारों ने कभी किसानों…

64x64

हरियाणा के फतेहाबाद जिले के टोहाना में बाबा बालकनाथ मंदिर के पुजारी अमरपुरी उर्फ बिल्लू का एक विडियो वायरल हुआ है, जिसमें वह महिलाओं के साथ आपत्तिजनक हालत में दिख…

64x64

पटना: लोकसभा में नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर हो रही बहस के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के भाषण और खासकर भाषण के बाद उनके 'आंख मारने'…

64x64

फेसबुक ओन्ड मैसेजिंग एप कंपनी व्हाट्सएप ने भारत में अपने 200 मिलियन यूजर्स के लिए बड़ा बदलाव किया है. व्हाट्सएप पर फैल रही अफवाहों के कारण देश में बढती मॉब…

64x64

नई दिल्ली: जिस बात की सबको उम्मीद थी और जिस बात को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुरू से आश्वस्त थे, आखिर वही बात सच भी हुई. मोदी सरकार ने अपने…