By: Sabkikhabar
13-06-2018 07:40

दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार और उपराज्यपाल के बीच लंबे वक्त से चली आ रही खींचतान अब बयानबाजी के बाद सीधे एलजी दफ्तर तक पहुंच गई है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पिछले करीब 40 घंटों से अपनी मांग पूरी न होने का दावा करते हुए उपराज्यपाल के दफ्तर में धरने पर बैठे हुए हैं. उनके साथ तीन मंत्री भी हैं. जिनमें से सत्येंद्र जैन और मनीष सिसोदिया ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है.

अरविंद केजरीवाल अपने मंत्रियों के साथ सोमवार शाम 5.30 बजे उपराज्यपाल से मिलने पहुंचे थे और मांगें पूरी न होने पर उसके बाद से वह अपने मंत्रियों के साथ एलजी दफ्तर में धरने पर बैठे हुए हैं. मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने भूख हड़ताल शुरू की थी. जिसके बाद आज मनीष सिसोदिया ने भी अनशन का ऐलान कर दिया है.

सिसोदिया ने शुरू की भूख हड़ताल

सत्येंद्र जैन के बाद उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी आज भूख हड़ताल शुरू कर दी है. उन्होंने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. सिसोदिया ने लिखा है, 'दिल्ली की जनता को उसका हक दिलाने और उसके रुके हुए काम कराने के लिए आज से मैं भी अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठ रहा हूं. सत्येंद्र जैन जी का अनशन भी कल से जारी है. हमारा आत्मबल और जनता का विश्वास ही हमारी ताकत है.'

धरने पर गुजरी दो रात

अरविंद केजरीवाल समेत डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और गोपाल राय अपनी तीन मांगों को लेकर विरोध कर रहे हैं. मंगलवार रात केजरीवाल ने अपने ट्वीट में लिखा, 'एलजी हाउस में हमारी दूसरी रात. हम यहां इसलिए हैं क्योंकि हमें दिल्ली से प्यार है और हम उसकी कद्र करते हैं.  हम चाहते हैं कि दिल्ली और बेहतर बने. हमें दुख होता है कि कई अच्छे कदम अटके पड़े हैं. चलिए, अपनी प्यारी दिल्ली को बेहतर बनाएं एलजी सर साथ मिलकर ऐसा करते हैं.'

आम आदमी पार्टी ने एलजी दफ्तर के बजाय अब मुख्यमंत्री आवास पर प्रदर्शन करने की रणनीति तैयार की है. केजरीवाल अपने मंत्रियों के साथ अब 6 फ्लैग स्टाफ रोड यानी सीएम आवास पर धरना करेंगे. आम आदमी पार्टी ने अपने विधायकों, नेताओं और कार्यकर्ताओं को सीएम आवास पर पहुंचने के लिए संदेश जारी किया है.

इसके अलावा आम आदमी पार्टी ने एलजी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन की बड़ी तैयारी भी की है. आप कार्यकर्ता आज शाम सीएम हाउस से एलजी हाउस तक पैदल मार्च निकालेंगे.

ये हैं AAP की 3 मांगें

- एलजी खुद IAS अधिकारियों की गैरकानूनी हड़ताल तुरंत खत्म कराएं, क्योंकि वो सर्विस विभाग के मुखिया हैं.

- काम रोकने वाले IAS अधिकारियों के खिलाफ सख्त एक्शन लें.

- राशन की डोर-स्टेप-डिलीवरी की योजना को मंजूर करें.

अरविंद केजरीवाल और उनके नेता लगातार ट्वीट कर उपराज्यपाल अनिल बैजल से मिलने की गुहार कर रहे हैं और अपनी मांगें पूरी करने की अपील कर रहे हैं. बावजूद इसके अभी तक एलजी ने अभी तक इस मसले पर कोई कदम नहीं उठाया है. 
 

Related News
64x64

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक दिन के दौरे पर मध्य प्रदेश पहुंच गए हैं. यहां पीएम मोदी कई विकास परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे और साथ ही राजगढ़ में एक जनसभा को…

64x64

अमेरिका के साथ बनी ट्रे़ड वॉर की स्थिति के बीच भारत ने संबंधों में सुधार के मकसद से अमेरिका से करीब 1,000 नागरिक विमान खरीदने का प्रस्ताव रखा है। भारत…

64x64

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ऐन वक्त पर चीन दौरा रद्द कर दिया है. ममता बनर्जी 22 जून से एक हफ्ते के लिए चीन के दौरे पर जाने…

64x64

पाली/नई दिल्ली. शिष्या से दुष्कर्म के आरोपी दाती महाराज से क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार को दूसरी बार पूछताछ की। ये पांच घंटे चली। इस दौरान दाती राे दिया। पुलिस ने…

64x64

झारखंड के आदिवासी बहुल खूंटी ज़िले में पाँच युवतियों के साथ कथित गैंग रेप के आरोप में एक मिशनरी स्कूल के फ़ादर समेत छह अन्य लोगों के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज…

64x64

समाजवादी पार्टी में नाराज चल रहे शिवपाल सिंह यादव ने अपने भतीजे पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर निशाना साधा है. उन्होंने अखिलेश को सलाह देते हुए कहा…

64x64

दोपहर पौने एक बजे तक मारे गये आतंकियों की संख्या चार पहुंच गयी इन आतंकियों का इस्लामिक स्टेट से नेटवर्क होने की बात कही जा रही है भारत में संभवत:…

64x64

मुंबई: महाराष्ट्र में आज से प्लास्टिक के इस्तेमाल पर बैन लग गया है. महाराष्ट्र सरकार ने नागरिकों और प्लास्टिक निर्माताओं को प्लास्टिक नष्ट करने के लिए आज तक का समय…