By: Sabkikhabar
11-06-2018 08:19

इस्लामाबाद: पाकिस्तानी सेना ने कहा कि भारत के साथ जंग की कोई गुंजाइश नहीं है क्योंकि दोनों ही देश परमाणु शक्तियां हैं. हालांकि, पाक ने चेतावनी दी है कि शांति की उसकी इच्छा को उसकी कमजोरी के तौर पर नहीं लिया जाना चाहिये. पाकिस्तानी सेना की मीडिया विंग इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने भारत पर 2018 की शुरुआत से अब तक 1077 बार सीज़फायर उल्लंघन करने का आरोप लगाया.

गफूर ने कहा, ‘‘रक्षा और शांति की हमारी इच्छा को कमजोरी नहीं समझा जाना चाहिये.’’ उन्होंने कहा, ‘‘युद्ध तब होता है जब कूटनीति विफल होती है.’’ उन्होंने आगे कहा कि दोनों पक्ष द्विपक्षीय मुद्दों पर एक-दूसरे के संपर्क में रहे लेकिन भारत बातचीत से पीछे हट गया. उन्होंने कहा, ‘‘भारतीयों को यह समझना चाहिये कि वो (भविष्य) में कहां जाना चाहते हैं." उन्होंने कहा, ‘‘हम दोनों परमाणु शक्तियां हैं और जंग की कोई गुंजाइश नहीं है.’’

गफूर ने कहा कि पाकिस्तान ने भारतीय गोलीबारी का जवाब नहीं दिया था. उसने 2003 के संघर्ष विराम समझौते का पालन करने के लिये पिछले सप्ताह दोनों देशों की सेनाओं के बीच बनी सहमति का पालन किया. लेकिन उनके मुताबिक भारत ने जब पाकिस्तान के आम नागरिकों को निशाना बनाया तब पाक जवाब देने पर मजबूर हुआ. उन्होंने कहा, ‘‘अगर भारत पहली गोली दागता है और कोई नुकसान नहीं पहुंचता है तो हम जवाब नहीं देंगे. अगर भारत दूसरी गोली चलाता है तो हम माकूल जवाब देंगे.’’

गफूर के मुताबिक भारतीय बलों द्वारा कामकाजी सीमा से लगे गांवों पर की गई गोलाबारी में एक महिला और एक नाबालिग लड़की की मौत हुई थी जबकि चार बच्चों और आठ महिलाओं समेत 24 अन्य घायल हुए थे. गफूर ने कहा कि पाकिस्तान संघर्ष विराम समझौते का पालन चाहता है. 2014 से अब तक पाकिस्तान 3400 से ज्यादा बार सीजफायर तोड़ चुका है

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में 2014 के बाद से आतंकी हमलों की 1150 से ज्यादा घटनाएं हो चुकी हैं. राज्य में आतंकी हमले की 2014 में 222 और 2015 में 208 घटनाएं हुई थीं, जबकि 2016 में ऐसी घटनाओं की संख्या बढ़कर 322 और 2107 में 342 पर पहुंच गई. इन आतंकी हमलों में 2014 से अब तक भारतीय सुरक्षा बलों के 300 से ज्यादा जवान शहीद हो चुके हैं.

इस दौरान भारतीय सुरक्षा बलों ने कार्रवाई करते हुए 658 आतंकियों को मार गिराया. 2014 से अब तक पाकिस्तान 3400 से ज्यादा बार सीजफायर तोड़ चुका है. 2018 में ऐसी घटनाएं बहुत तेजी से बढ़ी हैं. इस साल 23 मई तक ही सीजफायर तोड़ने की 1088 घटनाएं हो चुकी थीं. सीजफायर तोड़कर हुए पाकिस्तानी हमलों में 2014 से अब तक देश के 67 जवान शहीद हो चुके हैं.
 

Related News
64x64

इंटरनैशनल डेस्कः रविवार 24 जून सऊदी अरब के लिए एेेताहासिक दिन माना जाएगा। क्योंकि कल से सड़कों पर नई सुबह दिखाई दिखाई देगी। दरअसल, इस रविवार यानि कल से सऊदी…

64x64

लंदनः लंदन के व्यस्त चेयरिंग क्रॉस रेलवे स्टेशन पर बम होने का झूठा दावा करके दहशत फैलाने के आरोपी एक व्यक्ति को आज हिरासत में ले लिया गया। पुलिस ने…

64x64

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ ने शुक्रवार को आल इंडिया मुस्लिम लीग (एपीएमएल) के प्रमुख के पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने इस्तीफा सुप्रीम कोर्ट द्वारा…

64x64

इंटरनैशनल डेस्कः अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया के खिलाफ राष्ट्रीय आपात (नेशनल इमरजेंसी) की अवधि आज एक और साल के लिए बढ़ा दी। उन्होंने कहा कि उत्तर…

64x64

जकार्ता : इंडोनिशया के स्टार बक्स कैफे में हुए फिदायीन हमले की साजिश रचने के मामले में मौलाना अमान अब्दुर रहमान को स्थानीय कोर्ट ने मौत की सजा सुनाई है.…

64x64

नई दिल्ली: पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव के लिए जमात-उद-दावा ने पाकिस्तान भर में उम्मीदवार खड़े किए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इन 265 उम्मीवारों में…

64x64

इस्लामाबादः पाकिस्तान ने आज पुष्टि की कि तहरीक ए तालिबान पाकिस्तान (टी टी पी) का सरगना मुल्ला फजलुल्ला अफगानिस्तान के कुनार प्रांत में मारा गया है। उसने इसे  महत्वपूर्ण  घटनाक्रम…

64x64

सिडनी : अमेरिका के भूगर्भ वैज्ञानिकों ने बताया कि वनूआतू में शुक्रवार को 6.1 तीव्रता का भूकंप आया, लेकिन तत्काल क्षति की कोई खबर नहीं है. यूएस जियोलॉजिकल सर्वे ने…