By: Sabkikhabar
16-05-2018 08:03

मुफ्त बैंकिंग सेवाओं जैसे चेकबुक जारी करना और एटीएम से निकासी को जीएसटी के दायरे से बाहर रहने की उम्मीद है। यह बात वित्त मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कही। वित्तीय सेवा विभाग (डीएफएस) ने अपने राजस्व समकक्ष से संपर्क कर इस पर कायम भ्रम को दूर करने की मांग की है कि बैंकों द्वारा अपने ग्राहकों को दी जाने वाली कुछ मुफ्त सेवाओं पर जीएसटी लगेगा या नहीं। एक अधिकारी ने एक साक्षात्कार में कहा कि वित्तीय सेवा विभाग को उम्मीद है कि राजस्व विभाग उसे बताएगा कि मुफ्त बैंकिंग सेवाओं पर जीएसटी नहीं लगेगा।
सर्विस टैक्स विभाग ने भेजा था नोटिस
उल्लेखनीय है कि मुफ्त सेवाओं पर कर का भुगतान नहीं करने के एवज में बैंकों को सेवा कर के लिए नोटिस भेजे गए हैं। वित्तीय सेवा विभाग ने राजस्व विभाग से संपर्क कर यह स्पष्ट किए जाने की मांग की है कि ऐसी सेवाओं पर जीएसटी लगेगा या नहीं।

एक सीमा तक हैं मुफ्त
वित्तीय सेवा विभाग का मानना है कि चेक बुक जारी करना, एकाउंट स्टेटमेंट जारी करना और एटीएम से निकासी जैसी सेवाएं एक सीमा तक मुफ्त हैं और वाणिज्यिक गतिविधियां नहीं हैं। इसलिए इन्हें जीएसटी के दायरे में नहीं लाया जा सकता है। बैंकों के प्रबंधन की ओर से इंडियन बैंक्स एसोसिएशन (आईबीए) ने भी इस पर कर अधिकारियों से संपर्क किया था। 

मुफ्त नहीं सेवाएं, न्यूनतम बैलेंस रखना जरूरी
बैंकों को 2012 से 2017 तक की अवधि के लिए सेवा कर के नोटिस भेजे गए हैं, क्योंकि कर अधिकारियों का मानना है कि बैंक इन सेवाओं को मुफ्त नहीं दे रहे हैं, बल्कि ग्राहकों को न्यूनतम खाता बैलेंस रखने के लिए कहकर उनसे शुल्क ले रहे हैं। हर बैंक ग्राहकों के लिए न्यूनतम बैलेंस का अलग-अलग स्लैब तय करता है, जिसके आधार पर कुछ मुफ्त सेवाएं दी जाती हैं। जीएसटी एक जुलाई 2017 से लागू हुआ है। इसके पहले वस्तु एवं सेवाओं पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क और सेवा कर लगता था।

Related News
64x64

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर देश में हंगामा जारी है। केंद्र सरकार पर कीमतें कम कराने का दबाव बढ़ता जा रहा है। पिछले 12 दिनों से पेट्रोल-डीजल की कीमतें…

64x64

ऑनलाइन शॉपिंग करना किसे नहीं पसंद है. आप सामान खरीदते हैं और पसंद नहीं आया तो वापस लौटाने का विकल्प भी आपके पास होता है. लेकिन अब जरा संभलकर.

ई-रिटेलर…

64x64

नई दिल्ली: भारत के अरबपतियों को इस साल बड़ा नुकसान हुआ है। भारत के टॉप 20 अमीरों को 2018 में अब तक 1.21 लाख करोड़ का नुकसान हो चुका है।…

64x64

नई दिल्लीः हम सभी को कैश की जरूरत पड़ती है और भारत जैसे देश में जहां कैश में ही ज्यादा काम होता है करेंसी नोट हमारी जिंदगी का बेहद अहम…

64x64

राधा का नाम कहां से आया? इसाई धर्म पहली बार भारत कब आया? संस्कार और धर्म के बीच क्या संबंध क्या है? पहली दो किताबों देवलोक विथ देवदत्त पटनायक को…

64x64

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) ने 100 अरब डॉलर के क्लब में पहुंचने का कारनामा करने के बाद शुक्रवार को एक और इतिहास रच दिया है. शुक्रवार को टीसीएस देश की…

64x64

देश में पेट्रोल व डीजल की कीमतों में हो रही लगातार बढ़ोतरी से कीमत 80 रुपये से पार पहुंच गई है. पेट्रोल की कीमत में हुए बढ़ोतरी से जनाक्रोश और…

64x64

स्थानीय डेरी स्टार्टअप ओसम मिल्क को इंडियन ओवरसीज बैंक जल्द ही ब्लैक लिस्टेड करने वाला है। दरअसल, कंपनी बैंक कर्ज की किस्त नहीं चुका पा रही है। ऐसा नहीं कि…