By: Sabkikhabar
16-05-2018 08:01

नई दिल्लीः इंजीनियरिंग, रसायन एवं औषधि क्षेत्रों के बेहतर प्रदर्शन से निर्यात अप्रैल महीने में पिछले वर्ष के इसी महीने के मुकाबले 5.17 फीसदी बढ़कर 25.91 अरब डॉलर रहा। वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़े के अनुसार आयात भी सालाना आधार पर 4.60 फीसदी बढ़कर 39.63 अरब डॉलर रहा। इससे व्यापार घाटा 13.72 अरब डॉलर रहा।

आलोच्य महीने के दौरान तेल आयात 10.41 अरब डॉलर रहा जो पिछले साल के इसी महीने के मुकाबले 41.5 फीसदी अधिक है। हालांकि गैर-तेल आयात इस साल अप्रैल में 4.3 फीसदी घटकर 29.21 अरब डॉलर रहा। इंजीनियरिंग, रसायन तथा औषधि निर्यात में आलोच्य महीने में क्रमशः 17.63 फीसदी, 38.48 फीसदी तथा 13.56 फीसदी की वृद्धि हुई।

हालांकि पेट्रोलियम उत्पाद, कालीन, रत्न तथा आभूषण एवं लौह अयस्क के निर्यात में गिरावट दर्ज की गई। सोने का आयात भी अप्रैल में 33 फीसदी घटकर 2.58 अरब डॉलर रहा। मार्च में निर्यात 0.66 फीसदी घटकर 29.11 अरब डॉलर रहा। हालांकि पूरे वित्त वर्ष 2017-18 में निर्यात 9.78 फीसदी बढ़ा।   
 

Related News
64x64

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर देश में हंगामा जारी है। केंद्र सरकार पर कीमतें कम कराने का दबाव बढ़ता जा रहा है। पिछले 12 दिनों से पेट्रोल-डीजल की कीमतें…

64x64

ऑनलाइन शॉपिंग करना किसे नहीं पसंद है. आप सामान खरीदते हैं और पसंद नहीं आया तो वापस लौटाने का विकल्प भी आपके पास होता है. लेकिन अब जरा संभलकर.

ई-रिटेलर…

64x64

नई दिल्ली: भारत के अरबपतियों को इस साल बड़ा नुकसान हुआ है। भारत के टॉप 20 अमीरों को 2018 में अब तक 1.21 लाख करोड़ का नुकसान हो चुका है।…

64x64

नई दिल्लीः हम सभी को कैश की जरूरत पड़ती है और भारत जैसे देश में जहां कैश में ही ज्यादा काम होता है करेंसी नोट हमारी जिंदगी का बेहद अहम…

64x64

राधा का नाम कहां से आया? इसाई धर्म पहली बार भारत कब आया? संस्कार और धर्म के बीच क्या संबंध क्या है? पहली दो किताबों देवलोक विथ देवदत्त पटनायक को…

64x64

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) ने 100 अरब डॉलर के क्लब में पहुंचने का कारनामा करने के बाद शुक्रवार को एक और इतिहास रच दिया है. शुक्रवार को टीसीएस देश की…

64x64

देश में पेट्रोल व डीजल की कीमतों में हो रही लगातार बढ़ोतरी से कीमत 80 रुपये से पार पहुंच गई है. पेट्रोल की कीमत में हुए बढ़ोतरी से जनाक्रोश और…

64x64

स्थानीय डेरी स्टार्टअप ओसम मिल्क को इंडियन ओवरसीज बैंक जल्द ही ब्लैक लिस्टेड करने वाला है। दरअसल, कंपनी बैंक कर्ज की किस्त नहीं चुका पा रही है। ऐसा नहीं कि…