Breaking News

Today Click 140

Total Click 119790

Date 15-08-18

पूर्व जासूस पर हमले के पीछे पुतिन का नाम लेने पर ब्रिटेन पर भड़का रूस

By Sabkikhabar :17-03-2018 07:24


रूस और ब्रिटेन के पूर्व डबल-एजेंट को जहर दिए जाने के लिए ब्रिटेन ने सीधे-सीधे रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को जिम्मेदार ठहराया है। इस आरोप से भड़के रूस ने कहा है कि ये दावे 'चौंकाने वाले और अक्षम्य' हैं। पूर्व रूसी जासूस पर नर्व एजेंट से हमले के मुद्दे पर मॉस्को और लंदन के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है। शुक्रवार को ब्रिटेन के विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि उनकी सरकार का 'झगड़ा' पुतिन से है न कि रूसी जनता से।


जॉनसन ने लंदन में कहा, 'हमें पूरी तरह लगता है कि यह उनका (पुतिन) फैसला था। द्वितीय विश्व युद्ध के बाद पहली बार ब्रिटेन और यूरोप की सड़कों पर नर्व एजेंट के इस्तेमाल के लिए उन्होंने (पुतिन) निर्देश दिया।' 

पुतिन के प्रवक्ता डिमिट्री पेस्कोव ने जॉनसन के आरोपों पर तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की है। पेस्कोव ने कहा कि जॉनसन के दावे डिप्लोमैटिक प्रोटोकॉल के सभी नियमों का उल्लंघन करने वाले हैं। ब्रिटेन के आरोपों पर उन्होंने रूसी न्यूज एजेंसियों से कहा, 'कूटनीति के लिहाज से यह चौंकाने वाला और अक्षम्य व्यवहार है।' 

बता दें कि रूस के पूर्व जासूस सर्गई स्क्रिपल कुछ दिन पहले एक पार्क की बेंच पर अपनी बेटी के साथ अचेत पाए गए थे। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि उन पर नर्व एजेंट (स्नायु तंत्र को प्रभावित करने वाला रसायन) से हमला हुआ था। स्क्रिपल डबल एजेंट थे और वह ब्रिटेन के लिए भी काम कर चुके हैं। उन्हें रूस में देशद्रोह के जुर्म में सजा सुनाई गई थी लेकिन 2010 में ब्रिटेन ने रूस के साथ जासूसों के अदला-बदली कार्यक्रम के तहत स्क्रिपल को अपने यहां शरण दी थी। स्क्रिपल पर हमले के बाद से ब्रिटेन-रूस संबंधों में कड़वाहट काफी बढ़ गई है। दोनों देशों में तनाव ऐसे वक्त बढ़ा है जब पुतिन के रविवार को चौथी बार रूसी राष्ट्रपति पद के चुनाव में जीत की उम्मीद जताई जा रही है। 

Source:Agency