By: Sabkikhabar
13-03-2018 05:13

नई दिल्ली । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से मुलाकात की लेकिन राफेल लड़ाकू विमान सौदे पर बात नहीं की। दोनों नेताओं ने उदारवादी लोकतंत्र, झूठी खबरों आदि मुद्दों पर चर्चा की। मुलाकात में राहुल गांधी के साथ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी थे।

कांग्रेस हाल के महीनों में राफेल सौदे को लेकर मोदी सरकार पर हमलावर रही है। उसका आरोप है कि राफेल को ज्यादा कीमत पर खरीदा गया, इसलिए देश को नुकसान हुआ। मैक्रों से मुलाकात के बाद राहुल ने ट्वीट करके बताया कि उन्होंने उदारवादी लोकतंत्र के मायनों पर फ्रांस के राष्ट्रपति से लंबी चर्चा की। दोनों देशों के लोकतांत्रिक वातावरण के बारे में बात की। इस दौरान वैश्विक चुनौतियों पर भी चर्चा हुई। पर्यावरण को लेकर बढ़ रहे खतरों पर बात हुई।

मैक्रों से मुलाकात में राहुल ने राफेल का मुद्दा क्यों नहीं उठाया, इस पर कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष हमेशा विदेशी राष्ट्राध्यक्ष से मिलते हैं। कांग्रेस के इतिहास रहा है कि वह आगंतुक मेहमान से मुलाकात में राष्ट्रहित का ध्यान रखती है। जहां तक राफेल सौदे का सवाल है तो उसमें छह गंभीर खामियां हैं जो मामले में घोटाला होने की ओर इशारा करती हैं। इंगित करती हैं कि राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता हुआ। सुरजेवाला ने कहा, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए लड़ाकू विमान की कीमत बताने से इन्कार कर दिया। लेकिन डसाल्ट एविएशन ने 2016 की अपनी वार्षिक रिपोर्ट में बताया है कि 58,000 करोड़ रुपये में उसका 36 राफेल विमान बेचने का भारत से समझौता हुआ है। इस हिसाब से एक विमान 1,670 करोड़ रुपये का पड़ा। यही विमान 11 महीने पहले मिस्त्र और कतर को 1,319 करोड़ रुपये में प्रति फाइटर की दर से बेचा गया। इस लिहाज से भारत को पूरे सौदे में 12,632 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ।
 

Related News
64x64

लंदनः भारतीय प्राधिकारी द्वारा ब्रिटेन सरकार को लिखे  एक पत्र के बाद ब्रिटेन के एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि खालिस्तान समर्थन वाले एक  ब्रिटेन सरकार की  खालिस्तान समर्थन…

64x64

नई दिल्ली: ज्यादातर लोग अपनी जरूरतों को लेकर लापरवाह होते हैं, लेकिन बच्चों के मामले में कोई समझौता नहीं करते. बच्चों को बढ़िया से बढ़िया चीज देना चाहते हैं. ऐसे…

64x64

काबुलः अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में स्थित ग्रामीण पुनर्वास और विकास मंत्रालय के सामने  15 जुलाई  को आत्मघती हमला किया गया। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक के दारुलमन इलाके में…

64x64

मॉस्को: क्रोएशिया की राष्ट्रपति ने उम्मीद जताई कि अमेरिका और रूस के राष्ट्रपति ‘जिम्मेदारी’ से काम करेंगे तथा और अपनी पहली शिखर वार्ता के दौरान दोनों याद रखेंगे कि दुनिया…

64x64

वॉशिंगटनः पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव पर पूरी दुनिया की नजरें टिकी हुई हैं। इस चुनाव के खिलाफ अमरीका में लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।…

64x64

पेशावर : पाकिस्तान की दो चुनावी रैलियों को निशाना बनाकर किए गए शक्तिशाली बम विस्फोटों में शुक्रवार को एक शीर्ष राष्ट्रवादी नेता समेत कम से कम 133 लोगों की मौत…

64x64

 न्यूयार्कः  जॉनसन एंड जॉनसन बेबी पाउडर की वजह ओवेरियन (गर्भाशय) कैंसर पाए जाने  के बाद  अमरीका के मिसौरी प्रांत की सेंट लुइस सर्किट अदालत ने जॉनसन कंपनी को 22 पीड़ित…

64x64

लंदन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ब्रिटेन की पहली राजकीय और विवादित यात्रा के खिलाफ व्यापक विरोध प्रदर्शन हुए और इस क्रम में डायपर में ‘‘ट्रंप बेबी’’ का एक विशाल…