Breaking News

Today Click 950

Total Click 178174

Date 19-09-18

सुविधाएं बढ़ीं फिर भी पिछड़ा एयरपोर्ट, 51 में मिला 34वां नंबर

By Sabkikhabar :10-03-2018 07:43


भोपाल। यात्री सुविधाओं में लगातार बढ़ोतरी के बाद भी राजा भोज एयरपोर्ट देश के प्रमुख हवाई अड्डों से पिछड़ गया है। ताजा कस्टमर सेटिसफैक्शन सर्वे में देश के 51 प्रमुख एयरपोर्ट्‌स में से भोपाल को 34 वां नंबर मिला है पिछले सर्व में हमारा 33 वां नंबर था। यात्री सुविधाओं पर आधारित 33 बिंदुओं पर हुए सर्वे में भोपाल को 5 में से 4.19 अंक मिले हैं। रायपुर एयरपोर्ट एक बार फिर मप्र-छग का नंबर 1 हवाई अड्डा घोषित किया गया है।

एयरपोर्ट अथारिटी ऑफ इंडिया अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट काउंसिल द्वारा निर्धारित सवर्िेस क्वालिटी मापदंडों को ध्यान में रखकर साल में दो बार देश भर के एयरपोर्ट्‌स का सर्वे कराती है। यात्री सुविधाओं को बढ़ावा देने एवं हवाई अड्डों को कस्टमर फ्रेंडली बनाने के लिए अथारिटी ने इस बार सर्वे से पहले सभी 51 हवाई अड्डों को 5 में से 4.50 अंक अर्जित करने का लक्ष्य दिया था।

राजा भोज एयरपोर्ट इस लक्ष्य को पूरा नहीं कर पाया। जनवरी से जून 2017 के बीच हुए पिछले सर्वे में 4.12 अंक मिलने के बाद भी 33 वीं रैंक मिली थी। इस बार 4.19 अंक मिलने पर भी एक पायदान फिसल कर रैंक 34 वीं हो गई क्योंकि बाकी हवाई अड्डों ने हमसे बेहतर प्रदर्शन किया। यह सर्वे जुलाई से दिसंबर 2017 के बीच हुआ।

आसान कनेक्विटी से बढ़े अंक-

भोपाल से दिल्ली एवं मुंबई के लिए सबसे अधिक आठ उड़ाने हैं। चार उड़ानें लैंड होती है। चार उड़ानें टेकऑफ होती हैं। जेट एयरवेज एवं एयर इंडिया ने अपनी उड़ानों का शिड्यूल दिल्ली एवं मुंबई से संचालित इंटरनेशनल उ़ड़ानों की समय सारिणी को देखते हुए तय किया है। यानि भोपाल से दिल्ली पहुंचने के कुछ समय बाद ही आपको दुबई एवं सिंगापुर के लिए उड़ान मिल जाएगी। सर्वे में इजी कनेक्शन विथ अदर फ्लाइट्स बिंदु पर भोपाल को सर्वाधिक 4.61 अंक मिले हैं।

पार्किंग व्यवस्था से यात्री संतुष्ट नहीं-

सर्वे में चौंकाने वाली बात यह भी आई है कि भोपाल के यात्री पार्किंग व्यवस्था से संतुष्ट नहीं हैं। पार्किंग फैसेलिट वैल्यू फॉर मनी सर्वे में 5 में से 4.37 अंक मिले हैं जो औसत से कम हैं। वेटिंग टाइम इन चेक इन क्यू लाइन में 4.60 नंबर दिए गए हैं। फ्लाइट इन्फार्मेशन स्क्रीन के लिए 5 में से 4.56 एवं सेफ्टी फीलिंग पर 5 में से 4.62 नंबर मिले हैं। वाई फाई, चेकइन लाइन में लगने वाले समय के मामले में भोपाल को औसतन 5 में से 4.50 अंक मिले हैं लेकिन टर्मिनल की सफाई पर 5 में से 4.17 अंक ही मिल सके हैं।

बैगेज डिलेवरी लेट, कम हुए नंबर-

राजधानी के हवाई यात्री बैगेज डिलेवरी सर्विस से भी यात्री संतुष्ट नहीं है। इस बिंदु पर 4.40 अंक मिले हैं। इसका सीधा सा मतलब है कि यात्रियों को बैगेज समय पर नहीं मिल पा रहा है। यात्रियों के साथ स्टाफ के व्यवहार पर 4.50 नंबर मिले हैं, जो औसत के बराबर हैं।

सर्वे में इंदौर शामिल नहीं-

इस सर्वे में इंदौर एयरपोर्ट शामिल नहीं है। इंदौर मप्र का सबसे बड़ा एयरपोर्ट है। सर्वे में 15 लाख से अधिक यात्रियों वाले एयरपोर्ट्‌स को शामिल नहीं किया जाता। दिल्ली, मुंबई, चैन्नई, कोलकाता एवं हैदराबाद का सर्वे अलग से होता है। इसी सूची में इंदौर भी है

मप्र-छग के बाकी एयरपोर्ट की स्थिति-

शहर रैंक नंबर-

रायपुर - 1 4.88

खजुराहो - 14 4.55

जबलपुर - 44 4.00

ग्वालियर - 47 3.75

उड़ानें कम होना ही हमारी कमी-

ताजा सर्वे में भोपाल और लेह एयरपोर्ट को समान अंक मिले हैं। सर्वे से हम संतुष्ट नहीं हैं क्योकि हमने लगातार यात्री सुविधाओं में इजाफा किया है। चिल्ड्रंस केयर रूम, आर्ट गैलरी, सफाई व्यवस्था, स्ट्रेस फ्री म्युजिक, व्हील चेयर जैसी सुविधाएं बढ़ी हैं। मुझे लगता है कम उ़ड़ानें होना ही हमारी कमी है। इस वर्ष नई उड़ानें शुरू होने की उम्मीद है, इससे हमारी रैंक में भी सुधार होगा। - राकेश बाहेरी, उपमहाप्रबंधक एयरपोर्ट अथारिटी ऑफ इंडिया
 

Source:Agency