By: Sabkikhabar
11-01-2018 07:59

भोपाल। सीबीआई ने व्यापम घोटाले की जांच तीन साल पहले अपने हाथ में ली थी। अब उसे अपनी जांच में मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं मिला है, जिससे यह साबित हो कि उनकी इस मामले में किसी भी तरह की भागीदारी रही थी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक इस मामले में जांचकर्ताओं की राय अलग है। मगर वरिष्ठों ने हस्तक्षेप किया और सभी के भ्रम को दूर कर दिया है। बता दें कि उमा भारती ही वह शख्स थी, जिन्होंने साल 2014 में कहा था कि व्यापम घोटाला चारा घोटाले से बड़ा है।

इसके बाद उन्होंने ही इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपे जाने के लिए दबाव बनाया था। उसी साल राज्य कांग्रेस ने उन पर ही इस घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाया था। उन्होंने इस मामले में अपनी कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए विपक्ष पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया था। भारती का कहना था कि विपक्ष के नेता इस घोटाले में शामिल है इसी वजह से वे लोगों को भटकाने का काम कर रहे हैं।

मध्यप्रदेश में मेडिकल दाखिला परीक्षा पीएमटी-2012 में हुए घोटाला मामले में सीबीआई ने 23 नवंबर को व्यापम के चार पूर्व अधिकारियों समेत 592 आरोपियों के खिलाफ स्पेशल जज डीपी मिश्रा की कोर्ट में चार्जशीट पेश की थी।

कोर्ट में पेश की गई सीबीआई चार्जशीट में व्यापम के चार पूर्व अधिकारियों का नाम भी शामिल थे। आरोपियों की सूची में व्यापम के तत्कालीन निदेशक पंकज त्रिवेदी, तत्कालीन वरिष्ठ सिस्टम एनालिस्ट नितिन मोहिन्द्रा, तत्कालीन डिप्टी सिस्टम एनालिस्ट अजय कुमार सेन और तत्कालीन प्रोग्रामर सीके मिश्रा के नाम दर्ज थे।

हाईकोर्ट ने मामले में शुरुआती सुनवाई के दौरान तल्ख टिप्पणी में कहा था कि मेडिकल कॉलेज के संचालकों के कृत्यों और व्यापम जैसे बड़े घोटाले की वजह से हजारों योग्य छात्र मेडिकल सीटों पर दाखिले से वंचित हो गए और अयोग्य छात्र पैसे के बल पर सीट हासिल करने में कामयाब हो गए। कोर्ट ने कहा कि दाखिले की पूरी प्रक्रिया नियमों के खिलाफ थी, जिसके शिकार योग्य उम्मीदवार बने। यह बेहद चिंताजनक बात है।
 

Related News
64x64
बैतूल । आठनेर जनपद पंचायत के भाजपा के उपाध्यक्ष संतोष धाकड़ ने मुख्यालय स्थित आदिवासी कन्या छात्रावास की पुर्व की अधीक्षिका सहायक आयुक्त बैतूल विकास खंड शिक्षा अधिकारी आर पी…
64x64
पन्ना। जिले के ककरहटी नगर परिषद अन्तर्गत कन्या हाई स्कूल भवन शासन द्वारा 86 लाख रूपये से स्वीकृत किया गया था तथा उक्त कार्य का टेन्डर एवं लेआउट की प्रक्रिया…
64x64

भोपाल । भोपाल के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च (आइसर) का प्रयोग यदि पूरी तरह से सफल हुआ तो कैंसर को जड़ से मात दी जा सकेगी। यहां…

64x64

भोपाल। मंत्रालय की राजस्व शाखा में पदस्थ बाबू अनंत वर्मा की पुलिस हिरासत में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। वह हार्ट पेशेंट थे। परिजनों का आरोप है कि झगड़ा…

64x64

भोपाल। राजधानी भोपाल के शाहजहांनाबाद थाना क्षेत्र निवासी एक युवती को ब्लैकमेल कर उससे पैसे मांगने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि युवती का एक पूर्व…

64x64

इंदौर । भले ही सुप्रीम कोर्ट ने 'पद्मावत' की रिलीज को लेकर फैसला दिया हो लेकिन हम सिनेमाघरों में फिल्म नहीं लगने देंगे। करणी सेना सिनेमा हॉल के भीतर और…

64x64

भोपाल। विधानसभा चुनाव से पहले सरकार जनता के सामने अगले पांच साल का रोडमैप विजन 2023 के रूप में सामने रखेगी। इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर…

64x64

इंदौर। इंदौर के सरकारी अस्पतालों में जहां गंदगी, डॉक्टरों की लेटलतीफी सहित कई समस्याओं से मरीज परेशान हैं, वहीं शहर से 30 किलोमीटर दूर कंपेल के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को…