By: Sabkikhabar
10-01-2018 08:22

इंदौर। सरवटे बस स्टैंड से गंगवाल बस स्टैंड के बीच प्रस्तावित सड़क को लेकर इंदौर के मच्छी बाजार इलाके में सुबह से निर्माण तोड़ने की कार्रवाई शुरू हुई। नगर निगम और जिला प्रशासन की इस कार्रवाई में तहत मच्छी बाजार से सिलावटपुरा की जद में 150 से ज्यादा मकान, दुकान हैं जिन्हें तोड़ा जाएगा। फिलहाल इनमें से 66 मकानों को छोड़कर शेष पर कार्रवाई की जा रही है।

आपको बता दें कि स्टे खारिज होने के बाद मंगलवार को नगर निगम, जिला प्रशासन और पुलिस ने शाम को मच्छी बाजार की देसी शराब की कलाली और अन्य निर्माण को हटाने की कार्रवाई की। एडीएम अजय देव शर्मा और नगर निगम के अपर आयुक्त देवेंद्रसिंह के नेतृत्व में प्रशासन की टीम ने पूरे संसाधनों और अमले के साथ सुबह ही इलाके में दस्तक दे दी थी। फिर 11 पोकलेन और करीब दो दर्जन जेसीबी मशीनों और डम्परों के साथ कार्रवाई शुरू की।

आपको बता दें कि निगम ने सरवटे बस स्टैंड से गंगवाल बस स्टैंड तक 80 फीट चौड़ी सड़क प्रस्तावित है। इनमें से कोर्ट प्रकरणोंं के चलते 66 मकानोंं को फिलहाल छोड़ा जा रहा है। 66 में से 60 के मामले सुप्रीम कोर्ट में और 6 मकानों के प्रकरण हाईकोर्ट इंदौर में लम्बित हैं।
इधर इस बार कार्रवाई बहुत सुनियोजित तरीके से की जा रही है। निगम के हर अमले में 50-50 निगमकर्मी और इतने ही पुलिसकर्मी और अधिकारी शामिल हैं। हर पोकलेन के साथ एक बिल्डिंग ऑफिसर, एक इंजीनियर भी रखे गए हैं।

टीआई हुए घायल

कार्रवाई के दौरान एमआईजी थाना प्रभारी तारेश सोनी घायल हो गए। कड़ावघाट के पास पोकलेन मशीन को पीछे लेने के दौरान टीआई पोकलेन की चपेट में आ गए और उनके पैर में चोट लग गई। उन्हें तत्काल इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया।

पूर्व सांसद पहुंचे विरोध करने

पूर्व सांसद कल्याण जैन अपने समर्थकों के साथ कार्रवाई का विरोध करने पहुंचे थे। अधिकारियों ने उन्हें रोकने की कोशिश की। वे हर हाल में कार्रवाई रोकने पर अड़े थे। ऐसे में वरिष्ठ पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने मौके से हटाकर अलग किया। अधिकारी लगातार उन्हें कहते रहे कि उनके विरोध से स्थानीय लोग भड़क जाएंगे और अप्रिय स्थिति बन सकती है।

घरों की छत पर विशेष निगरानी

इस कार्रवाई के लिए पुलिस और प्रशासन पूरी सतर्कता बरत रही है। इस बार बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी घरों और मकानों की छतों पर भी खड़े किए गए हैं। छत से पूरे इलाके में विशेष निगरानी की जा रही है। गौरतलब है कि इस इलाके में दो बड़ी घटनाएं हुई हैं जब लोगों ने छतों से पुलिस और प्रशासन की टीमों पर हमला किया था। एक घटना में तत्कालीन एसपी अनिलकुमार धस्माना के गार्ड छेदीलाल दुबे के सिर पर सीलबट्टा फेंका गया था जिससे उनकी मौत हुई थी।

भारी पुलिस बल तैनात

इलाके की संवेदनशीलता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पूरी कार्रवाई के लिए करीब 500 का पुलिस बल तैनात किया गया है। इनमें थाना प्रभारियों सहित 17 थानों का बल, एसएफ के 90 जवान, रिज़र्व बल के करीब 100 कर्मी मौजूद हैं।
 

Related News
64x64
बैतूल । आठनेर जनपद पंचायत के भाजपा के उपाध्यक्ष संतोष धाकड़ ने मुख्यालय स्थित आदिवासी कन्या छात्रावास की पुर्व की अधीक्षिका सहायक आयुक्त बैतूल विकास खंड शिक्षा अधिकारी आर पी…
64x64
पन्ना। जिले के ककरहटी नगर परिषद अन्तर्गत कन्या हाई स्कूल भवन शासन द्वारा 86 लाख रूपये से स्वीकृत किया गया था तथा उक्त कार्य का टेन्डर एवं लेआउट की प्रक्रिया…
64x64

भोपाल । भोपाल के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च (आइसर) का प्रयोग यदि पूरी तरह से सफल हुआ तो कैंसर को जड़ से मात दी जा सकेगी। यहां…

64x64

भोपाल। मंत्रालय की राजस्व शाखा में पदस्थ बाबू अनंत वर्मा की पुलिस हिरासत में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। वह हार्ट पेशेंट थे। परिजनों का आरोप है कि झगड़ा…

64x64

भोपाल। राजधानी भोपाल के शाहजहांनाबाद थाना क्षेत्र निवासी एक युवती को ब्लैकमेल कर उससे पैसे मांगने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि युवती का एक पूर्व…

64x64

इंदौर । भले ही सुप्रीम कोर्ट ने 'पद्मावत' की रिलीज को लेकर फैसला दिया हो लेकिन हम सिनेमाघरों में फिल्म नहीं लगने देंगे। करणी सेना सिनेमा हॉल के भीतर और…

64x64

भोपाल। विधानसभा चुनाव से पहले सरकार जनता के सामने अगले पांच साल का रोडमैप विजन 2023 के रूप में सामने रखेगी। इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर…

64x64

इंदौर। इंदौर के सरकारी अस्पतालों में जहां गंदगी, डॉक्टरों की लेटलतीफी सहित कई समस्याओं से मरीज परेशान हैं, वहीं शहर से 30 किलोमीटर दूर कंपेल के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को…