By: Sabkikhabar
09-01-2018 05:39

नई दिल्ली। लंबे समय तक चलने वाला डोकलाम विवाद भले ही खत्म हो चुका है, लेकिन भारत और चीन के बीच एक बार फिर विवाद अब नए दौर में प्रवेश करता हुआ दिखाई दे रहा है। पिछले कुछ हफ्तों में भारत के पूर्वी राज्य अरुणाचल प्रदेश की सीमा पर दोनों देशों के बीच लगातार गतिरोध देखने को मिल रहा है। हाल ही में अरुणाचल प्रदेश की सीमा पर पीपुल्स आर्मी द्वारा रोड़ बनाने की घटना सामना आई थी, लेकिन अब खबर है कि चीन नए तरीकों से पूरे 4,057 किमी वाली लंबी लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर अतिक्रमण करने की कोशिश में है। अरुणाचल प्रदेश की सीमा पर तनाव अंग्रेजी अखबार द इकनॉमिक टाइम्स के मुताबिक, अरुणाचल प्रदेश की सीमा पर हाल ही में चीन का एक बुल्डोजर दिखाई दिया था, जिससे ऐसा लगता है कि इस क्षेत्र में भी डोकलाम जैसा गतिरोध देखने को मिल सकता है। पिछले साल भूटान के डोकलाम क्षेत्र पर भारत और चीन की सेना करीब 80 दिनों तक खड़ी थी। दोनों देशों के बीच चलने वाला यह अब तक का सबसे बड़ा गतिरोध था। सीमा समझौते को प्रभावित करना चाहता है चीन चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग अपनी सेना को हर युद्ध के लिए तैयार रहने के लिए बहुत बार कह चुके हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि सीमा पर चीन की सेना बहुत उत्तेजित दिखाई दे रही है, जो सीमा पार कर भारत में प्रवेश करने की कोशिश कर रहा है। चीन सीमा पर इस नए विवाद से दोनों देशों के बीच सीमा समझौते को भी प्रभावित कर सकता है। अरुणाचल पर समझौते की कोई गुंजाइश नहीं है... डोकालाम विवाद के बाद दोनों देशों के बीच सीमा विवाद को लेकर द्विपक्षीय वार्ता हो चुकी है। चीन की मांग है कि अरुणाचल प्रदेश के तवांग वाले क्षेत्र को उसे दे दिया जाए। दोनों देश तवांग पर अटके हुए हैं, चीन का मानना है कि तवांग के चर्चा किए बगैर सीमा विवाद का हल संभव नहीं है, वहीं भारत बहुत पहले ही स्पष्ट कर चुका है कि अरुणाचल को लेकर किसी भी प्रकार के समझौते की गुंजाइश नहीं है। भारतीय अधिकारियों के मुताबिक, तवांग की आबादी को उस क्षेत्र के अनुसार बसाया गया है। अरुणाचल को फिर बताया तिब्बत का हिस्सा... इस साल के पहले सप्ताह में ही चीन की पीपुल्स आर्मी को एलएसी पर रोड़ बनाने के सामानों के साथ देखी गया था। उसके बाद चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने भी अरुणाचल प्रदेश को भारत के अस्तित्व को लेकर इनकार किया था। चीन विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनियांग ने भारत के अभिन्न राज्य अरुणाचल प्रदेश को दक्षिणी तिब्बत का हिस्सा बताया था।  

Related News
64x64

वाशिंगटन : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर रूस पर जुबानी हमला बोला है. उन्होंने कहा कि रूस के प्रति अब तक उनसे ज्यादा सख्त हमला किसी…

64x64

नई दिल्ली  । जामिया मिलिया इस्लामिया के एजेके मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर के छात्र रह चुके दानिश सिद्दिकी को पत्रकारिता जगत के प्रतिष्ठित पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।…

64x64

हेग: ब्रिटेन ने रासायनिक हथियारों पर दो दशक से लागू अंतराष्ट्रीय प्रतिबंध तोडऩे का बुधवार को रूस पर आरोप लगाया। गौरतलब है कि एक पूर्व रूसी जासूस को पिछले महीने…

64x64

वाइट हाउस कैबिनेट में शामिल होने वाली पहली भारतीय-अमेरिकी निकी हेली का पद खतरे में है। ऐसा माना जा रहा है कि राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप हेली को भविष्य में संभावित…

64x64

उत्‍तर कोरिया और दक्ष‍िण कोरिया के नेताओं के बीच 27 अप्रैल को बैठक होगी. इस बैठक को 'साउथ-नॉर्थ समिट 2018' नाम दिया गया है. ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं…

64x64

लंदन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने पांच दिन के विदेश दौरे के दूसरे पड़ाव में ब्रिटेन बहुंच गए हैं। प्रधानमंत्री मोदी का लंदन के हीथ्रो एयरपोर्ट पर यूके के विदेश सचिव…

64x64

वैज्ञानिकों ने पर्यावरण प्रदूषण के लिए जिम्मेदार एक बड़ी समस्या के निदान में कामयाबी पाई है। उनका दावा है कि, उन्होंने एक ऐसा एंजाइम बनाया है जो आम तौर पर…

64x64

अमेरिका ने विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) को जानकारी दी है कि डॉनाल्ड ट्रंप सरकार द्वारा इस्पात, एल्युमीनियम और चीन से आयातित अन्य सामानों पर लगाए गए शुल्क के मुद्दे पर…