Breaking News

Today Click 1508

Total Click 212966

Date 22-10-18

जेबकतरे ने बताया और 80 लाख के साथ पकड़े गए दो हवाला कारोबारी

By Sabkikhabar :14-10-2017 08:02


भोपाल । राजधानी में हवाला का कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है। मंगलवारा पुलिस ने गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात एक ड्रायफ्रूट कारोबारी और उसके साथी को हवाला के 80 लाख रुपए के साथ गिरफ्तार किया। रकम को बैग में भरकर ये लोग मुंबई में हरीश नाम के व्यक्ति को पहुंचाने जाने जा रहे थे। इस रकम को ठिकाने लगाने पर इन्हें 32 हजार रुपए मिलने वाले थे।
बताया जा रहा है कि एक जेबकट की सूचना पर ये आरोपी 21 दिन से पुलिस के राडार पर थे। रकम को जब्त कर पुलिस ने आयकर विभाग को भी सूचना दे दी है। आरोपियों से पांच मोबाइल फोन भी मिले हैं। इधर, हरीश का मोबाइल अब बंद आ रहा है।
मंगलवारा टीआई सुधेश तिवारी के अनुसार सूचना मिली थी कि एक लाल रंग के स्कूटर पर दो लोग काले रंग के बैग में नकदी लेकर जा रहे हैं। पुलिस की टीम ने संदिग्धों को पंजाबी कॉलोनी में मनोहर डेयरी के पास रोक लिया। उन्हें थाने लाया गया तो उनकी पहचान 27 ए सहारा परिसर, ईदगाह हिल्स निवासी दयानंद कुकरेजा (किंगरानी) (40) पिता नोतरमल कुकरेजा के रूप में हुई। इनकी मंगलवारा में ड्रायफ्रूट मसाले की दुकान है।
उसके साथ 68 न्यू सिंधी कॉलोनी निवासी बैरसिया रोड अशोक भदवानी पिता बानोमल भदवानी था। आरोपियों के बैग से 80 लाख रुपए जब्त किए गए। दोनों आरोपी रेल का जनरल टिकट लेकर मुंबई जाने के लिए निकले थे। दोनों इतनी भारी रकम का कोई हिसाब-किताब नहीं दे पाए।
मुंबई में हरीश नाम के व्यक्ति को देनी थी रकमः आरोपियों ने बताया कि वे गुरुवार को नाइट एक्सप्रेस वीकली ट्रेन के जरनल टिकट से लोकमान्य तिलक टर्मिनल रेलवे स्टेशन मुंबई जा रहे थे। उनके पास से एक आधा नोट मिला है। आरोपियों के अनुसार यह उनका कोड वर्ड था। आधा नोट मुंबई में हरीश केपास था, जिसे यह रकम देनी थी।
तीन सप्ताह से पुलिस की राडार पर थेः सूत्रों के अनुसार पुलिस को जिस जेबकट ने हवाले की रकम की सूचना दी थी वह तीन हफ्तों से इन दोनों आरोपियों को बैग में रकम ले जाते हुए देख रहा था। हालांकि पिछले हफ्ते ये लोग हवाला की रकम लेकर मुंबई नहीं गए थे। इस तरह दोनों आरोपी करीब 21 दिनों पुलिस की राडार पर थे पर कार्रवाई गुरुवार-शुक्रवार की रात को हुई।
भोपाल के कई व्यापारियों ने दी थी रकमः आरोपी दयानंद ने पुलिस को बताया कि रकम में कई कारोबारियों के रुपए हैं। उन्हें एक लाख की रकम पहुंचाने पर 400 रुपये मिलते थे। यानी उसे 80 लाख पर 32 हजार रुपए मिलने वाले थे। अब पुलिस ने उन कारोबारियों की तलाश में लगी है, जिन्होंने यह रकम दयानंद को मुंबई ले जाने के लिए दी थी।
हवाला कारोबारियों में हड़कंपः अस्सी लाख की रकम पकड़ाए जाने की सूचना मिलने के बाद शहर भर के हवाला कारोबारियों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में इन कारोबारियों ने अपने स्तर पर जानकारी जुटानी शुरू कर दी। कई हवाला कारोबारियों की थाने के बाहर भीड़ लग गई थी। चर्चा तो यह भी रही कि दिवाली के सामान को मुंबई से भोपाल मंगवाने के एवज में यह रकम टैक्स बचाने के लिए भेजी जा रही थी।
आयकर विभाग को दी सूचना
दो व्यक्तियों से अस्सी लाख की नकद रकम बरामद हुई है। शुरुआती जांच में यह रकम हवाला कारोबार के तहत मुंबई पहुंचाना सामने आया है। रकम को जब्त कर इसकी सूचना आयकर विभाग दे दी है। दोनों आरोपी मंगलवारा क्षेत्र के कारोबारी हैं। हेमंत सिंह चौहान, पुलिस अधीक्षक नार्थ

Source:Agency