By: Sabkikhabar
11-10-2017 08:25

सांता रोजा। अमेरिका के उत्तरी कैलिफोर्निया के जंगलों में सोमवार को फिर भीषण आग लग गई है। तेज हवाओं के चलते आग तेजी से फैलती जा रही है। आग इतनी भयानक है कि डिज्नीलैंड के कैलिफोर्निया एडवेंचर पार्क के ऊपर का आसमान नारंगी रंग का हो गया।
आग से अब तक 13 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 1500 से अधिक मकान खाक हो चुके हैं। करीब 20 हजार लोगों को पलायन करना पड़ा है। कई लोग लापता हैं। मृतकों में 99 और 100 साल का एक दंपती भी शामिल है। 100 से अधिक लोग घायल हैं।
प्रांत में आग लगने की बीते एक दशक की यह सबसे भयावह घटना बताई जा रही है। कैलिफोर्निया डिपार्टमेंट ऑफ फॉरेस्ट्री एंड प्रोटेक्शन के मुताबिक, इस साल जंगलों में आग के 7,484 मामले सामने आए, जिसमें 7.71 एकड़ इलाका जल गया। पांच काउंटी में आपात स्थिति की घोषणा कैलिफोर्निया के गवर्नर जेरी ब्राउन ने वाइन, नेपा, सोनोमा, यूबा और ऑरेंज काउंटी में आपात स्थिति की घोषणा कर दी है।
उन्होंने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से राहत और बचाव कार्य में मदद का आग्रह किया है। कैलिफोर्निया के वन विभाग के अनुसार, सबसे ज्यादा नुकसान सांता रोजा में हुआ है। आग की भयावहता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लपटों को अंतरिक्ष से भी देखा गया है।
नेशनल ओशनिक एंड एटमॉसफेरिक एडमिनिस्ट्रेशन ने सैटेलाइट से आग देखे जाने की सूचना दी। कैलिफोर्निया में अग्निशमन विभाग के प्रवक्ता डेनियल बर्लेंट के अनुसार, उत्तरी कैलिफोर्निया के जंगलों में रविवार देर रात आग भड़की। इस दौरान 80 किमी घंटे की गति से चल रहीं तेज हवाओं के चलते आग 73 हजार एकड़ के दायरे में फैल गई। इसे बुझाने के लिए सैकड़ों दमकलकर्मी सोमवार को जूझते रहे। सोनोमा काउंटी के दो अस्पतालों को भी खाली कराना पड़ा है।
दुनिया का एकमात्र विमान 747 सुपर टैंकर बुझा सकता है आग
कैलिफोर्निया के जंगलों में लगी आग को दुनिया का एकमात्र विमान 747 सुपर टैंकर ही बुझा सकता है। यह एक बार में 75 हजार लीटर से अधिक (20 हजार गैलन) पानी गिरा सकता है। कैलिफोर्निया प्रशासन इस विमान की मदद से आग से निपटने की कोशिश कर रहा है।
सोमवार को इसने आग के ऊपर छह चक्कर लगाकर पानी गिराया। दिलचस्प बात यह है कि सुपर टैंकर को जेल, फोम और पानी से महज 30 मिनट में भरा जा सकता है और यह 600 मील प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ सकता है।
इसलिए अक्सर लगती है आग
कैलिफोर्निया के दक्षिणी तट से चलने वाली अत्यधिक सूखी हवा के कारण यहां अक्सर आग लगती है। यह सूखी हवा अत्यधिक गर्म होती है। इसी से सूखे जंगलों में आग लग जाती है। विशेषज्ञों के मुताबिक, हवा की रफ्तार तेज होने पर घर्षण से निकली हर चिंगारी शोला बन जाती है।
 
 

Related News
64x64

भोपाल । पुलिस ने आईसीआईसीआई बैंक के एटीएम बूथ को गैस कटर से काटते हुए एक युवक को रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। घटना शुक्रवार रात ढाई बजे अशोक गार्डन थाने…

64x64

जब भी किसी फिल्म की आउटडोर शूटिंग होती है तो प्रोड्यूसर लीड एक्टर-एक्ट्रेस के रुकने का बढ़िया इंतजाम करते हैं। उन्हें 5 स्टार होटल में ठहराया जाता है। लेकिन शाहिद…

64x64

सीमा पर तनातनी के बीच पाकिस्तान की ओर से कायराना हरकतों और घुसपैठ की कोशिशों में कमी नहीं आई है, लेकिन भारतीय सेना भी पूरी मुस्तैदी से हर गलत मंसूबे…

64x64

भोपाल। महिला एवं बाल विकास विभाग के सौ सहायक संचालकों को अब रिवर्ट नहीं किया जाएगा। बल्कि उन्हें विभाग में ही मर्ज कर विभिन्न् पदों पर आसीन किया जाएगा। उच्च…

64x64

11 हजार करोड़ रुपये का महाघोटाला सामने आने के बाद से पंजाब नेशनल बैंक विवादों में बना हुआ है. भले ही देश के दूसरे सबसे बड़े बैंक को विजय माल्या…

64x64

इंदौर । ‘‘जेम्स पब्लिक स्कूल’’ (आगरा-मुंबई बायपास स्थित) को आईसीएसई (इंडियन सर्टिफिकेट ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन) बोर्ड से मान्यता प्राप्त हो गई है। ये बोर्ड ‘‘आईसीएसई’’ 10वीं और 12वीं कक्षा की…

64x64

भोपाल। हमीदिया में जांंच कराने वाले मरीजों को घर बैठे जांच रिपोर्ट मिल जाएगी। इसके लिए हमीदिया अस्पताल प्रबंधन 'ई-सेहत" नाम का मोबाइल एप शुरू करने जा रहा है। जो…

64x64

मूंढापांडे में टोल प्लाजा पर बुधवार रात एक दिल दहला देने वाली घटना हुई। यहां पर टोल की पर्ची कटवाने से मना करने पर टोल कर्मचारियों का कार चालक से…