By: Sabkikhabar
12-08-2017 08:34

रायपुर। माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) 11 वीं की परीक्षा सीबीएसई की तर्ज पर लेगा। इसके लिए एनसीईआरटी के ही ब्लू प्रिंट (परीक्षा योजना) को लागू करने की तैयारी है। इसके हिसाब से अब थ्योरी का पेपर 70 नंबर, जबकि प्रैक्टिकल 30 नंबर का होगा।

अभी तक राज्य में कक्षा ग्यारहवीं के लिए एससीईआरटी (राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद) की किताबें चल रही थीं। लेकिन इस सत्र में माशिमं ने इन्हें बदलकर एनसीईआरटी (राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद) की किताबें लागू कर दी हैं।

लिहाजा अब किताबों के साथ-साथ परीक्षा में भी बदलाव हो जाएगा। इसी साल से लागू हो जाएगा नया पैटर्न कक्षा 11वीं में एनसीईआरटी की किताबें लागू करने के बाद माशिमं ने इसके लिए कोई ब्लूप्रिंट लागू नहीं किया था।

पहले तय किया गया था कि नए सिरे से ब्लू प्रिंट बनाया जाएगा, लेकिन अब यह एनसीईआरटी की परीक्षा योजना को जस का तस लागू करने जा रहा है। अब भूगोल, जीव विज्ञान, रसायन, भौतिकी समेत अन्य विषय जिसमें प्रैक्टिकल लागू है, उसकी परीक्षाएं अब 70 अंक की थ्योरी और 30 अंक के लिए प्रैक्टिकल होगा।

स्थानीय स्तर पर परीक्षा माशिमं बनाएगा पर्चा माशिमं ने इस साल 9वीं और 11वीं की परीक्षाएं स्थानीय स्तर पर ही कराने का निर्णय लिया है, लेकिन प्रश्न पत्र माशिमं ने ही बनाने का निर्णय लिया है। अभी तक इन परीक्षाओं के लिए स्कूल स्तर पर पर्चे तैयार हो रहे थे। अब इन दोनों कक्षाओं की परीक्षा बोर्ड परीक्षा के आधार पर होगी, लेकिन मूल्यांकन स्थानीय स्तर पर ही होगा।

वहीं इस साल से नौवीं में 75 अंक का पर्चा होगा। हर सब्जेक्ट में 25-25 अंक के प्रोजेक्ट प्रैक्टिकल होगा। प्रोजेक्ट के टॉपिक माशिमं देगा, लेकिन इसकी पूरी प्रक्रिया स्कूल स्तर पर ही होगी। माशिमं के प्रश्न पत्र बनाने के कारण अब राज्य स्तर पर एक ही तरह का पर्चा होगा।

- 11 वीं में एनसीईआरटी की किताबें लागू की गई हैं, इसलिए ब्लूप्रिंट भी इसी का होगा। जैसी किताब की संरचना, पाठ्यक्रम है, उसी के अनुरूप ही तो ब्लूप्रिंट होना चाहिए, ऐसा निर्णय लिया जा रहा है। - विकासशील, सचिव, स्कूल शिक्षा
 

Related News
64x64

रायपुर। प्री-एग्रीकल्चर टेस्ट यानी पीएटी-2018 के परिणाम का इंतजार कर रहे छात्रों को और इंतजार नहीं करना होगा। दावा आपत्ति के बाद परीक्षा के परिणाम संभवतः बुधवार 27 जून तक…

64x64

राजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा छत्तीसगढ़ में अब तक नौ लाख 58 हजार से ज्यादा सूखा पीड़ित किसानों को 568 करोड़ 67 लाख रूपए का मुआवजा दिया जा चुका…

64x64

बीजापुर । छत्तीसगढ़ में पुलिसकर्मियों के परिवारों का आंदोलन जोर पकड़ते जा रहा है। विपक्षी दलों के बाद अब नक्सलियों ने भी पुलिस आंदोलन को समर्थन देने का ऐलान किया…

64x64

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज वीरांगना महारानी दुर्गावती के शहादत दिवस पर राजधानी रायपुर के तेलीबांधा तालाब के पास केनाल रोड पर स्थित वीरांगना रानी दुर्गावती की प्रतिमा पर…

64x64

रायपुर। पुलिस कर्मियों के आंदोलन को लेकर सोशल मीडिया में भड़काऊ पोस्ट अपलोड करने के मामले में खमतराई पुलिस ने बिलासपुर के बर्खास्त सिपाही राकेश यादव के खिलाफ राजद्रोह का…

64x64

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में डॉ. भीमराव अंबेडकर अस्पताल के सांख्यिकीय आंकड़ों पर तैयार वर्ष 2015, वर्ष 2016 और वर्ष 2017 की हेल्थ इनफॉरमेशन…

64x64

रायपुर। मानसून ने सही समय पर केरल में दस्तक दी, आठ जून को यह छत्तीसगढ़ भी पहुंच गया और 11 जून को रायपुर में पहली बारिश हुई। लेकिन इसके बाद…

64x64

राज्यपाल श्री बलरामजी दास टंडन से आज यहां राजभवन में छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष श्री के. आर. पिस्दा ने सौजन्य भेंट की। इस अवसर पर राज्यपाल के सचिव…