By: Sabkikhabar
12-08-2017 06:53

नई दिल्ली। कश्मीर में आतंकवाद जैसी समस्या ने निपटने के लिए सेना अब रोबोट का इस्तेमाल करने का विचार कर रही है। इन रोबोट की खास बात यह होगी कि, यह रोबोट किसी भी स्थान पर आसानी से गोला-बारूद ले जा सकेंगे। यह रोबोट अपने ही देश में बनेंगे। आर्मी के अधिकारी ने बताया कि आर्मी ने 544 रोबोट को मांग की है। अधिकारी ने बताया कि हमारी इस मांग को रक्षा मंत्रालय ने भी मान लिया है।

सेना के लिए काफी मददगार होगा रोबोट
सेना के प्रस्ताव में कहा गया कि, जिस तरह से आतंकवाद जंगलों से शहरों की तरफ बढ़ रहा है, रोबोट एक जवान की तरह सुरक्षा और निगरानी बल का काम करेगा। रोबोट को अब सिस्टम में शामिल करना जरूरी है। सेना अधिकारी ने कहा कि जिस तरह से भी जम्मू-कश्मीर में हालात चल रहे हैं, वह ठीक नहीं है। इस समस्या से निपटने के लिए हमारी सुरक्षा बलों के अलावा राष्ट्रीय राइफल्स होती है। जो हमेशा आतंकवाद का सामना करती रहती है। रोबोट के आने से सेना को काफी सुविधा होगी। सेना के लेख में कहा गया कि राष्ट्रीय राइफल्स जो कि 90 के दशक में बनाई गई थी। उसे आए दिन आतंकवाद का सामना करना पड़ता है। ऐसे में यह रोबोट राष्ट्रीय राइफल्स के लिए काफी मददगार होंगे।

क्या होगी रोबोट की खासियत
इन रोबोट की खासियत यह होगी की यह काफी हल्के होंगे। इसके अलावा इनका इस्तेमाल बीहड़ इलाकों में भी किया जा सकेगा। इन रोबोट पर कैमरा लगाने की सुविधा होगी। इन रोबोट की रेंज 200 मीटर की होगी। यह रोबोट किसी भी स्थान पर आसानी से गोला-बारूद ले जा सकेंगे। इन स्टन ग्रेनेड भी शामिल होगा। इसके अलावा यह भी कहा गया कि इन रोबोट का इस्तेमाल एक साथ दो यूनिट कर सकेंगी। रोबोट इस तरह का होगा कि उसे एक साथ 2 या उससे ज्यादा टीम संचालित कर पाएंगी। बस इसके लिए एक जैसे रिमोट की आवश्यकता होगी।

दक्ष नाम की डिवाइस कर रही है इस्तेमाल
सेना का कहना है कि यह रोबोट हमारे देश में ही बने ताकी इन्हें आसानी से इस्तेमाल किया जा सके। साथ ही इसमें बेहतरी का विकल्प भी हो। अभी स्वेदश निर्मित दक्ष नामक डिवाइस का प्रयोग सेना इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) को तलाश कर पकड़ने में इस्तेमाल कर रही है। दक्ष नाम की इस डिवाइस को रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन द्वारा विकसित किया गया है। दक्ष सीढ़िया चढ़ सकता है। इसमें 3-4 घंटे काम करने की बैटरी है। इसकी रेंज 500 मीटर तक है। साथ ही यह 20 किलो तक वजन उठा सकता है।
 

Related News
64x64

उदयपुर: राजस्थान के उदयपुर जिले में जिला प्रशासन ने साम्प्रदायिक सौहार्द बिगडऩे की आशंका के मद्देनजर निषेधाज्ञा लागू कर आज रात आठ बजे से अगले चौबीस घंटे तक इंटरनेट सेवाएं…

64x64

नई दिल्ली । पिछले दिनों जर्मनी के बॉन में हुए जलवायु परिवर्तन सम्मलेन में भारत ने कार्बन उत्सर्जन को कम करने की अपनी प्रतिबद्धिता दोहराई। साथ ही अक्षय ऊर्जा के…

64x64

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के पहलगाम जिले के एक निजी स्कूल में काम करने वाले एक युगल को स्कूल प्रबंधन ने उनकी शादी के दिन बर्खास्त कर दिया है। स्कूल प्रबंधन…

64x64

केरल के जीशा मर्डर केस में कोर्ट ने दोषी को सजा-ए-मौत देने का फैसला सुनाया है। दोषी अमीरुल इस्लाम को आज सजा सुनाने के लिए आज एर्नाकुलम सेशन कोर्ट लाया…

64x64

गुजरात चुनाव में दूसरे और अंतिम चरण की वोटिंग से ऐन पहले एक और बम फूट गया. बीजेपी के एक एमएलए की ऑडियो क्लिप वायरल हो गई है जिसमें उन्होंने…

64x64

चारा घोटाले के एक और मामले में बिहार के दो पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव और जगन्नाथ मिश्र समेत कुल 31 लोगों के भाग्य का फैसला 23 दिसंबर को होगा.…

64x64

नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने टोल प्लाजा पर लगे अपने स्टाफ को निर्देश दिया है कि वे लोग टोल से निकलने वाले सेना के सभी जवानों को खड़े…

64x64

अहमदाबाद : गुजरात विधानसभा चुनाव के दूसरे और आखिरी चरण के लिए चुनाव प्रचार का शोर मंगलवार को थम गया. 182 में से 93 सीटों के लिए गुरुवार को वोट…