By: Sabkikhabar
19-06-2017 09:17
इंदौर। आजादी मिले 70 साल होने को आए लेकिन देश में किसानों के लिए अब तक कोई पुख्ता सिस्टम विकसित नहीं हो पाया है। केंद्र से लेकर राज्य तक किसानों के लिए योजनाओं की कमी नहीं है लेकिन इनकी जानकारी और सीधा लाभ किसानों तक आसानी से नहीं पहुंच पाता। ग्रेडिंग की व्यवस्था नहीं फसल के दाम तय होने में उसकी गुणवत्ता अहम मुद्दा होती है। मंडी या बाजार से व्यापारी कम दाम पर अनाज खरीदता है इसकी ग्रेडिंग करता है और क्वालिटी का माल बना कर उसकी पैकिंग करता है और ऊंचे दाम पर बेच देता है। एक क्विंटल फसल की ग्रेडिंग का खर्च सिर्फ 100 रुपए आता है। किसान अगर यह कर ले तो उसकी फसल का भाव 200 से 300 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ सकता है। लेकिन ग्रेडिंग करने वाली मशीनों का खर्च किसानों के बस की बात नहीं है। जानकारी का सिस्टम नहीं हाल ही में मालवा में बारिश हुई और किसानों ने सोयाबीन की बोवनी कर दी। लेकिन अब आसमान से बादल गायब हैं और किसान भगवान भरोसे। यदि किसानों को मौसम की सटीक जानकारी दी जाती तो वह इस संकट से बच सकते थे। लेकिन अब तक हमारे पास मानसून की सूचना साझा करने वाला मजबूत सिस्टम नहीं है । संकट में तुरंत मदद नहीं किसान समय पर नुकसान से उबर पाए इसके लिए जरूरी है कि संकट की घड़ी में उसे तुरंत मदद मिले। किसानों को तुरंत राहत मिले ऐसा तंत्र हम अब तक खड़ा नहीं कर पाए हैं। बीमा योजना के नाम का एक झुनझुना हमेशा थमाया जाता है। ये भी कारगर नहीं है। पाला पड़ने से एक किसान की फसल खराब हो गई। उसने जब बीमा के लिए आवेदन दिया तो जवाब मिला कि सिर्फ जल भराव और मिट्टी कटाव से हुए नुकसान का बीमा दे सकते हैं। किसान को क्या चाहिए -खेतों तक जाने के लिए बारह मासी सड़कें जरूरी हैं। किसान बारिश में सब्जी खेत से घर ला सकेगा तभी बाजार में बिकेगी। -बीज,खाद और यंत्र पर मिलने वाली सबसिडी तुरंत मिले। -मंडी में किसानों को त्वरित पेमेंट की व्यवस्था होनी चाहिए। व्यापारी किसानों को चेक देते हैें इससे रकम खाते में आने में 2 दिन का समय लग जाता है। - यंत्रों के उपयोग का सहकारी सिस्टम विकसित करना होगा। इससे खेती की लागत घटेगी।
Related News
64x64

भोपाल। राजधानी भोपाल के परवलिया इलाके में अवैध तरीके से पेट्रोल व डीजल की चोरी करते हुए दो आरोपियों को रंगे हाथ पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस ने आरोपियों के…

64x64

भोपाल। राजधानी भोपाल के बिलखिरिया इलाके में एक युवक ने अपनी शादी के दो साल बाद पुरानी प्रेमिका के साथ उसके घर में घुसकर बलात्कार किया है। घटना के बाद…

64x64

भोपाल। दस साल की बच्ची से दुष्कर्म करने के आरोपियों को शुक्रवार दोपहर जहांगीराबाद बाजार में भीड़ ने पुलिस की मौजूदगी में दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। पुलिस उन्हें घटनास्थल की तस्दीक…

64x64

भोपाल। एक महिला ने मृत व्यक्ति को पति बताते हुए फर्जी दस्तावेज बनाए, फिर उसी आधार पर गैस दावा न्यायालय से राहत राशि के चार लाख रुपए हड़प लिए थे।…

64x64

भोपाल। राजधानी भोपाल के कोहेफिजा इलाके में एक राह चलती महिला को जबरदस्ती कार में बैठाए जाने का मामला सामने आया है। घटना कल शुक्रवार देर रात की है, जब…

64x64

भोपाल। शक्ति कांड मामले की सुनवाई महिला जज के सामने होगी वहीं इस मामले में शासन की ओर से पैरवी भी महिला वकील को सौंपी गई है। संभवतः इस मामले…

64x64

भोपाल। निकाय से निकाय (निकाय के भीतर) में तबादलों की नीति अभी तक कैबिनेट को भी नहीं भेजी गई और स्कूल शिक्षा विभाग ने तबादले भी शुरू कर दिए। हाईस्कूल…

64x64

भोपाल। हबीबगंज रेलवे स्टेशन के पास 31 अक्टूबर की शाम को हुए सनसनीखेज शक्तिकांड में गुरुवार शाम को रेलवे पुलिस (जीआरपी) ने चालान पेश कर दिया। करीब 200 पन्नों के…