By: Sabkikhabar
19-06-2017 07:18
नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि माता-पिता के फैसले को मानने के लिए लड़कियां अपना प्यार कुर्बान कर देती हैं, भारत में ये आम बात है। SC ने ये फैसला 1995 के एक केस में सुनाया है, जिसमें गुपचुप शादी करने के बाद एक कपल ने सुसाइड की कोशिश की थी। लेकिन, इस कोशिश में लड़की की मौत हो गई थी और लड़का बच गया था। ट्रायल कोर्ट ने लड़के को लड़की की हत्या का दोषी मानते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी, जिसे राजस्थान हाईकोर्ट ने बरकरार रखा था। इस फैसले के खिलाफ लड़के ने SC में अपील की थी। SC ने उम्र कैद की सजा को रद्द कर दिया। और क्या कहा SC ने... - जस्टिस एके सीकरी और जस्टिस अशोक भूषण की बेंच ने कहा, "हो सकता है कि लड़की पहले अनिच्छा से ही माता पिता के फैसले के साथ रही हो, लेकिन बाद में उसने साफ तौर पर अपना फैसला बदल लिया था। ये बात घटनास्थल पर मिले सिंदूर, फूलों की माला और चूड़ियों को देखकर साफ हो जाती है। हो सकता है कि लड़की ने लड़के से कहा हो कि अपने परिवार के विरोध के कारण वो उससे शादी नहीं कर सकती है।" - "लड़कियों के लिए अनिच्छा से ही सही... पैरेंट्स के फैसले को कबूल करना और अपने प्यार को कुर्बान करना इस देश में आम घटना है।" जाति अलग होने की वजह से शादी का विरोध किया - SC ने कहा, "लड़की और लड़का दोनों ही प्यार में थे। लड़की के पिता ने कोर्ट में कहा है कि जाति अलग होने की वजह से उन्होंने दोनों की शादी करने से इनकार कर दिया था।" लड़के ने कोर्ट में क्या बयान दिया था - आरोपी लड़के ने ट्रायल कोर्ट में बयान दिया था, "लड़की का परिवार शादी के लिए राजी नहीं था। हम दोनों ने सुसाइड करने का फैसला किया और जयपुर में एक अंडरकंस्ट्रक्शन बिल्डिंग के कमरे में जाकर कॉपर सल्फेट खा लिया। लेकिन, लड़की ने ज्यादा मात्रा में कॉपर सल्फेट खाया था और उसकी हालत बिगड़ गई।" - उसने बताया कि लड़की की हालत बिगड़ने पर वह आसपास मदद मांगने के लिए गया और जब लौटा तो लड़की लटकी हुई मिली, जिसके बाद वो उसे लेकर हॉस्पिटल गया, जहां उसकी मौत हो गई। SC ने लड़के के बयान को विश्वसनीय बताया - SC ने घटना को लेकर लड़के के बयान को विश्वसनीय बताया है। - SC ने कहा, "लड़के के बयान के मुताबिक लड़की के घरवाले उसके साथ मारपीट करते थे। घटना के दिन भी उसकी बुरी तरह पिटाई की गई थी। जब वो लड़के के साथ प्यार में पागल थी और उससे शादी करना चाहती थी, तब इस बात की संभावना है कि अपने परिवार में इस तरह का व्यवहार होने के चलते लड़की ने विद्रोह करने का फैसला लिया हो। जिसके चलते उसने लड़के से शादी का प्रस्ताव रखा हो और इसके लिए उन्होंने ऐसी एकांत जगह का चुनाव किया।" केवल दो ही लोग जानते हैं कि वास्तव में क्या हुआ:SC - बेंच ने कहा, "इस बात की संभावना है कि जब लड़के को लगा कि वो लड़की को नहीं पा सकेगा... तो वो लड़की की हत्या करने की सीमा तक चला गया, क्योंकि वो उस लड़की को किसी और के साथ नहीं देख सकता था। हत्या की ये वजह हो सकती है। हालांकि, इस तरह की घटना घटी हो ये किसी का अंदाजा हो सकता है, क्योंकि इस बात के कोई सबूत सामने नहीं आए। प्रॉसिक्यूशन के लिए ऐसी कोई बात कहना संभव नहीं है, क्योंकि जो कुछ भी वास्तव में हुआ, वो केवल दो लोग जानते हैं। एक (लड़की) जिसकी मौत हो गई है और दूसरा (लड़की) कठघरे में है।" - SC ने ये भी कहा कि क्रिमिनल केसेस में फैसला अटकलों के आधार पर नहीं लिया जा सकता है। कोर्ट ने आरोपी को ये कहते हुए सजा से बरी कर दिया कि प्रॉसिक्यूशन के पास गुनाह साबित करने के लिए मुनासिब शक के सिवा और कुछ नहीं था।
Related News
64x64

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की पुण्यतिथि पर शुक्रवार को उन्हें श्रद्धांजलि दी और कहा कि उन्होंने देश के लिए जो महत्वपूर्ण…

64x64

लखनऊ । देश के प्रथम नागरिक राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट से कार्यक्रम स्थल रिसालदार पार्क पहुंचे। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद बौद्ध भिक्षु प्रज्ञानंद को पुष्पांजलि अर्पित…

64x64

मुंबई : महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना का गठबंधन फिर संकट में पड़ता नजर आ रहा है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बेटे और युवा सेना के अध्यक्ष आदित्य ठाकरे…

64x64

उदयपुर ... देश भर को हिला कर रख देने वाले राजसमंद निर्मम हत्याकांड के कई दिन बाद स्थिति अभी भी तनावपूर्ण बनी हुई है। लव जिहाद के नाम पर की…

64x64

लंदन। शराब कारोबारी विजय माल्या ने प्रत्यर्पण से बचने के लिए फिर भारतीय जेलों की खराब हालत की अजीबो-गरीब दलील दी है। भारतीय बैंकों का 9,000 करोड़ रुपये कर्ज नहीं…

64x64

नई दिल्ली... भारत में 1980 के दशक में डीरेग्युलेशन और रिफॉर्म्स यानी सुधारों का दौर शुरू होने के बाद से लोगों के बीच आर्थिक असमानता में भारी वृद्धि हुई है।…

64x64

नई दिल्ली: एक पारसी ट्रस्ट ने सदियों पुरानी परंपरा आज तोड़ दी और उच्चतम न्यायालय को सूचित किया कि वह अपने समाज से बाहर विवाह करने वाली पारसी महिला और…

64x64

घोघा (भागलपुर).यहां के एक फैमिली में भाभी को खुद के देवर से प्यार हो गया जिसके बाद फैमिली को टूटने से बचाने के लिए बड़े भाई ने दोनों की शादी…