By: Sabkikhabar
19-06-2017 07:17
केंद्र सरकार ने आईएएस तथा आईपीएस अधिकारियों समेत लगभग 67,000 कर्मचारियों के सेवा रिकॉर्ड की समीक्षा शुरू की है. ये समीक्षा खराब प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों की पहचान करने के लिए किया जा रहा है. बता दें कि यह समीक्षा सेवा तथा शासन प्रणाली को और बेहतर करने के सरकारी प्रयासों का हिस्सा है. कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस प्रतिक्रिया के परिणामस्वरूप आचार संहिता का पालन नहीं करने वाले लोग दंड के अधिकारी हो सकते हैं. उन्होंने कहा, केंद्र सरकार के लगभग 67,000 कर्मचारियों के सेवा रिकॉर्ड की समीक्षा की जा रही है. इसके जरिए खराब प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों की पहचान होगी. अधिकारी ने कहा कि इनमें से लगभग 25,000 कर्मचारी अखिल भारतीय तथा समूह ए सेवाओं से हैं. इनमें भारतीय प्रशासनिक सेवा, भारतीय पुलिस सेवा और भारतीय राजस्व सेवा आदि आते हैं. भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं करेगी सरकार कार्मिक राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि एक ओर सरकार का रुख उच्च स्तरीय दक्षता और भ्रष्टाचार को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करने का है. वहीं दूसरी ओर सरकार ईमानदार अधिकारियों के लिए कामकाज के लिए अनुकूल वातावरण सुनिश्चित करना चाहती है. आंकड़ों के मुताबिक केंद्र सरकार के कुल 48.85 लाख कर्मचारी हैं.
Related News
64x64

संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हो गया है. भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह भी शुक्रवार को संसद पहुंचे. शाह राज्यसभा सांसद के रूप में पहली बार संसद पहुंचे…

64x64

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट में पांच जजों की संविधान पीठ ने आधार को विभिन्न सरकारी योजनाओं और कल्याणकारी योजनाओं से अनिवार्य रूप से जोड़ने के केंद्र के फैसले पर अंतरिम…

64x64

नई दिल्ली. दिल्ली सरकार ने राजधानी के सुपर स्पेशियेलिटी जी बी पंत अस्पताल के आधे बिस्तर दिल्ली वालों के लिए आरक्षित कर दिए हैं. दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा ये…

64x64

नई दिल्ली: गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए गुरुवार को दूसरे और अंतिम चरण का मतदान संपन्ना हुआ. मतदान के बाद आए सभी एक्जिट पोल गुजरात में एक बार फिर भारतीय…

64x64

नई दिल्ली: दिल्ली-एनसीआर में ठंड का प्रकोप शुरू हो गया है। शुक्रवार की सुबह कोहरा छाया रहा और शीतलहर ने गलन बढ़ा दी है। वहीं ट्रेनों की रफ्तार भी थम…

64x64

सुपर बाइक के लिए क्रेजी रोहित शेखावत की मौत सेफ्टी फीचर का दावा करने वाली कंपनियों की पोल खोलने के लिए काफी है।
जयपुर के जेएलएन मार्ग पर बुधवार…

64x64

नई दिल्ली। दिल्ली के गाजीपुर इलाके में इंसानियत और रिश्तों को झकझोर देने वाली वारदात सामने आई है। अपने अवैध संबंध को छिपाने के लिए एक मां इतनी निष्ठुर हो…

64x64

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां की दोस्ताना अंदाज में हुई मुलाकात गुरुवार को चर्चा का विषय बनी रही। दोनों का एक दूसरे के हाथ में हाथ…