By: Sabkikhabar
19-06-2017 07:17
केंद्र सरकार ने आईएएस तथा आईपीएस अधिकारियों समेत लगभग 67,000 कर्मचारियों के सेवा रिकॉर्ड की समीक्षा शुरू की है. ये समीक्षा खराब प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों की पहचान करने के लिए किया जा रहा है. बता दें कि यह समीक्षा सेवा तथा शासन प्रणाली को और बेहतर करने के सरकारी प्रयासों का हिस्सा है. कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस प्रतिक्रिया के परिणामस्वरूप आचार संहिता का पालन नहीं करने वाले लोग दंड के अधिकारी हो सकते हैं. उन्होंने कहा, केंद्र सरकार के लगभग 67,000 कर्मचारियों के सेवा रिकॉर्ड की समीक्षा की जा रही है. इसके जरिए खराब प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों की पहचान होगी. अधिकारी ने कहा कि इनमें से लगभग 25,000 कर्मचारी अखिल भारतीय तथा समूह ए सेवाओं से हैं. इनमें भारतीय प्रशासनिक सेवा, भारतीय पुलिस सेवा और भारतीय राजस्व सेवा आदि आते हैं. भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं करेगी सरकार कार्मिक राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि एक ओर सरकार का रुख उच्च स्तरीय दक्षता और भ्रष्टाचार को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करने का है. वहीं दूसरी ओर सरकार ईमानदार अधिकारियों के लिए कामकाज के लिए अनुकूल वातावरण सुनिश्चित करना चाहती है. आंकड़ों के मुताबिक केंद्र सरकार के कुल 48.85 लाख कर्मचारी हैं.
Related News
64x64

निपाह वायरस को लेकर टेंशन लेने की जरूरत नहीं है। डॉक्टरों का कहना है कि यह वायरस अभी सिर्फ केरल के कोझिकोड तक ही सीमित है। केरल में भी किसी…

64x64

तमिलनाडु के तूतीकोरिन में पिछले एक महीने से वेदांता की स्टरलाइट कॉपर यूनिट को बंद करने की मांग को लेकर हो रहा प्रदर्शन मंगलवार को हिंसक हो गया. प्रदर्शनकारियों का…

64x64

केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) की टीम मंगलवार को पटना में आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के आवास पर पहुंची. लालू आवास पर सीबीआई की टीम ने उनकी पत्नी और पूर्व…

64x64

माल एवं सेवा कर उत्पाद के आने के बाद छोटे कारोबारियों के साथ ही होटल इंडस्ट्री को भी काफी ज्यादा चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है. होटल व रेस्तरां…

64x64

नई दिल्ली। अगर आप दिल्ली में रहते हैं और नया एयर कंडिशनर (AC) खरीदने की योजना बना रहे हैं तो आपके लिए अच्छा ऑफर है। दिल्ली में बिजली की सप्लाई…

64x64

लखनऊ. सुप्रीम कोर्ट के आदेश और उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से नोटिस देने के बाद उत्तर प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री अपना सरकारी बंगला बचाने की जुगत में लग गए…

64x64

नई दिल्ली । केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि गंगा की सफाई का काम अगर पूरा नहीं होता है तो लोग नौकरशाहों को नहीं मोदी सरकार को कोसेंगे। जल…

64x64

नई द‍िल्‍ली : पूरी दुनिया का चक्कर लगाकर नौसेना की जाबांज महिलाएं सोमवार को भारत लौट आईं. आठ महीने से ज्यादा समय में समुद्र के रास्ते दुनिया को नापने वाली…