By: Sabkikhabar
19-06-2017 06:40
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोमती रिवर फ्रंट परियोजना की सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी है। नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना की अध्यक्षता में गठित कमेटी की रिपोर्ट में इसकी संस्तुति की गई थी। इतना ही नहीं न्यायिक जांच में दोषी मिले अफसरों के खिलाफ आपराधिक कृत्य की रिपोर्ट दर्ज कराने का फैसला भी किया गया है। योगी सरकार के इस सख्त रुख से अफसरों में खलबली मच गई है। गोमती रिवर फ्रंट परियोजना के लिए सपा सरकार ने 1513 करोड़ रुपये स्वीकृत किए थे। पिछली सरकार के कार्यकाल में ही 1437 करोड़ रुपये जारी कर दिए गए। स्वीकृत बजट की 95 फीसदी राशि जारी होने के बावजूद 60 फीसदी काम पूरा न होने पर योगी सरकार ने सत्ता संभालते ही मामले की न्यायिक जांच के आदेश दे दिए। न्यायिक जांच में इस परियोजना को भ्रष्टाचार का पर्याय करार दिया गया।
Related News
64x64

कैराना उपचुनाव में बड़े-बड़े उलटफेर हो रहे हैं. वोटर कन्फ्यूज है कि आखिरकार ये हो क्या रहा है, किसके साथ कौन है? गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव के माहौल और कैराना…

64x64

भारतीय रेलवे द्वारा गुरुवार को जारी की गई देश के सबसे गंदे 10 रेलवे स्टेशनों में यूपी के चार स्टेशन शामिल हैं. टॉप 10 की सूची में कानपुर सेंट्रल देश…

64x64

मोदी सरकार पहले की तुलना में अब कम लोकप्रिय है लेकिन 2019 के महामुकाबले के लिए नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद के लिए वोटरों की पसंद के मामले में भारी बढ़त…

64x64

शेयर बाज़ार में एक कहावत है कि यहां हर किसी का वक़्त आता है. कभी बाज़ी तेज़डियों (बुल रन) के हाथ लगती है तो कभी शिकंजा मंदड़ियों (बीयर रन) का…

64x64

मेट्रो की मजेंटा लाइन मंगलवार यानी 29 मई से पूरी तरह ऑपरेशनल होने जा रही है। इससे केवल दिल्ली नहीं, बल्कि एनसीआर के लोगों को भी काफी फायदा मिलने वाला…

64x64

नई दिल्ली: हाल ही में निपाह वायरस के आंतक से न सिर्फ लोग सदमे में हैं, बल्कि इस वायरस की चपेट में आने से अब तक करीब 12 लोगों की…

64x64

विश्वास मत पर मतदान से एक दिन पहले कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री जी परमेश्वर ने आज कहा कि कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने एच डी कुमारस्वामी के पूरे 5 साल मुख्यमंत्री बने…

64x64

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नीदरलैंड के पीएम मार्क रट ने आपसी बातचीत के बाद संयुक्त बयान जारी किया। इस दौरान दोनों देशों ने एक-दूसरे को परस्पर सहयोग…